डायरिया प्रभावित क्षेत्र में एक घर से लिए पानी के सैंपल में मिला एस्चेरिचिया कोलाई बैक्टीरिया

Edited By Vijay, Updated: 02 Feb, 2023 11:19 PM

escherichia coli bacteria found in water sample

जिला मुख्यालय धर्मशाला के समीपवर्ती पासू, शीला और पंतेहड़ से लिए गए 5 सैंपल में से 4 की रिपोर्ट सही पाई गई है। क्षेत्र में एक घर की पेयजल टंकी से लिए गए सैंपल में एस्चेरिचिया कोलाई बैक्टीरिया पाया गया है लेकिन हैरानी की बात यह है कि इस घर के 4...

धर्मशाला (तनुज): जिला मुख्यालय धर्मशाला के समीपवर्ती पासू, शीला और पंतेहड़ से लिए गए 5 सैंपल में से 4 की रिपोर्ट सही पाई गई है। क्षेत्र में एक घर की पेयजल टंकी से लिए गए सैंपल में एस्चेरिचिया कोलाई बैक्टीरिया पाया गया है लेकिन हैरानी की बात यह है कि इस घर के 4 सदस्यों में से केवल एक ही डायरिया की जकड़ में आया था। स्वास्थ्य विभाग द्वारा 3 गांवों में इस रोग के फैलने के कारणों को लेकर गहराई से जांच की जा रही है। इसमें यह भी अंदेशा लगाया जा रहा है कि कहीं क्षेत्र में सामूहिक भोज के दौरान तो नहीं दूषित पानी की सप्लाई हो गई थी जिस कारण यह रोग फैला हो। वीरवार को क्षेत्र में एक हैंडपंप, एक जल शक्ति विभाग के नल तथा एक कुएं के पानी का सैंपल लेकर जांच को भेजा गया। इनकी रिपोर्ट 48 घंटों के बाद विभाग के पास पहुंचेगी। 
PunjabKesari

पंचायत प्रतिनिधियों को उचित कदम उठाने के लिए कहा : सीएमओ 
सीएमओ कांगड़ा डाॅ. गुरदर्शन गुप्ता ने कहा कि डायरिया प्रभावित क्षेत्रों से लिए 5 सैंपल में से 4 की रिपोर्ट सही आई है जबकि एक व्यक्ति विशेष के घर की टंकी से लिए गए पानी के सैंपल में बैक्टीरिया की पुष्टि हुई है। गांवों में यह बीमारी कैसी फैली इसे लेकर जांच चल रही है और वीरवार को भी 3 सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग की टीम ने क्षेत्र का दौरा कर स्थिति का जायजा लिया तथा लोगों को पेयजल स्त्रोतों के नजदीक गंदगी न फैलाने बारे जागरूक किया। क्षेत्र में प्रवासी भी रहते हैं जोकि खुले में शौच जाते हैं, जिसके चलते पंचायत प्रतिनिधियों को उचित कदम उठाने के लिए कहा गया है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में उचित दवाइयां उपलब्ध करवा दी गई हैं तथा मोबाइल क्लीनिक की भी व्यवस्था की गई है जबकि रैपिड रिस्पांस टीमें क्षेत्र में नजर रखे हुए हैं।  

सामने आए 10 नए मरीज
वीरवार को पासू, पंतेहड़ और भटेहड़ क्षेत्र में 10 नए मरीज डायरिया से ग्रस्त पाए गए हैं। यह मरीज पीएचसी दाड़ी और एचएससी पासू में उपचार के लिए पहुंचे थे। वीरवार तक उक्त गांवों में डायरिया से ग्रस्त कुल 46 मरीज सामने आ चुके हैं तथा 18 मरीज उपचाराधीन हैं। इनमें से एक 20 वर्षीय युवक का उपचार जोनल अस्पताल में चल रहा है तथा एक 10 वर्षीय लड़की टीएमसी में उपचाराधीन है। 

जिले भर में की जा रही मॉनिटरिंग
सीएमओ ने कहा कि हमीरपुर जिले में चिंताजनक बने डायरिया रोग के बाद जिला कांगड़ा भी अलर्ट पर है। इसके चलते सभी बीएमओ और एसएमओ को क्षेत्रों में मॉनिटरिंग करने के निर्देश जारी कर दिए हैं। प्रतिदिन जिले भर में सामने आ रहे मरीजों पर नजर रखी जा रही है। जिले में अन्य स्थानों पर ज्यादा मरीज सामने नहीं आ रहे हैं। ऐसे में जिले में चिंता की कोई बात नहीं है। 

प्रत्येक घर में उपलब्ध करवाया जा रहा ब्लीचिंग-क्लोरिन दवाइयां
एसडीएम धर्मशाला शिल्पी बेक्टा ने भी वीरवार को पासू पंचायत का दौरा किया। उन्होंने रोगियों का कुशलक्षेम भी जाना। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा क्लोरिन दवाइयां उपलब्ध करवाई जा रही हैं। वहीं जल शक्ति विभाग की ओर से आशा वर्कर्ज के माध्यम से प्रत्येक घर में ब्लीचिंग पाऊडर उपलब्ध करवाया जाएगा जिससे साफ-सफाई सुनिश्चित हो सके। दाड़ी पीएचसी को 24 घंटे खोलने और एंबुलैंस की व्यवस्था की गई है।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here
 

Related Story

Trending Topics

India

Australia

Match will be start at 22 Mar,2023 03:00 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!