जयराम ठाकुर के बयान पर सीएम सुक्खू बोले-कर्ज ही होती हैं देनदारियां, हमारी सरकार चुकाएगी

Edited By Vijay, Updated: 07 Feb, 2023 10:34 PM

cm sukhvinder singh sukhu

मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने नादौन के सेरा विश्राम गृह में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि देनदारियां भी कर्ज की तरह होती हैं, जिन्हें हमारी सरकार ने चुकाना है। पूर्व मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर द्वारा 11 हजार करोड़ रुपए को देनदारियां बताने...

नादौन (जैन): मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने नादौन के सेरा विश्राम गृह में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि देनदारियां भी कर्ज की तरह होती हैं, जिन्हें हमारी सरकार ने चुकाना है। पूर्व मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर द्वारा 11 हजार करोड़ रुपए को देनदारियां बताने पर मुख्यमंत्री ने यह प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि देनदारियों की परंपरा को किसी न किसी को खत्म तो करना ही पड़ेगा। अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए कड़े व सही फैसले तो लेने ही पड़ेंगे और व्यवस्था परिवर्तन के लिए हम आम व गरीब जनता के हित में फैसले भी लेंगे और कार्य भी करेंगे, ताकि समाज के अंतिम व्यक्ति तक सरकार की सुविधाएं व विकास पहुंच सके। 

बिना बजट के घोषणाएं करती रही पूर्व जयराम सरकार 
सुक्खू ने कहा कि पूर्व जयराम सरकार बिना बजट के घोषणाएं करती रही। बिना डाॅक्टरों के अस्पताल खोल दिए। उन्होंने सवाल किया कि क्या फार्मासिस्ट के सहारे अस्पताल चल सकता है? पिछली सरकार ने कर्मचारियों को एरियर दिए बिना ही छठे वेतन आयोग की घोषणा कर दी। सरकार को पैसे का इंतजाम करना चाहिए था। डीए की किस्त की घोषणा कर दी लेकिन पैसे का प्रावधान नहीं किया। सुक्खू ने कहा कि उन्होंने भाजपा की तरह घोषणाएं नहीं कीं कि अगली सरकार आएगी तो वो देनदारियां देती रहे। उन्होंने कहा कि हम जल्द ही एक योजना लाने वाले हैं, जिसमें बजट का प्रावधान कर दिया गया है। उस योजना को लागू कर दिया जाएगा। 

किसी क्षेत्र की राजनीति में विश्वास नहीं करते
सुक्खू ने कहा कि वह किसी क्षेत्र की राजनीति में विश्वास नहीं करते। पीडब्ल्यूडी के टैंडर को महीनों बीत जाते थे। अब 20 दिनों के अंदर टैंडर और डेढ़ साल में सड़क का कार्य पूरा करने के निर्देश दिए हैं। हमें संस्थानों को मजबूत करना है, न कि कमजोर। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश का भविष्य सुनहरा बनाने की दिशा में कार्य करना होगा। हमने सरकारी कर्मचारी व अधिकारी, जिन्होंने विकास की गाथा लिखी है, पहले उनके लिए बजट का प्रावधान किया।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here
 

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!