5 घंटे के रैस्क्यू ऑप्रेशन के बाद सुरक्षित निकाले सभी पर्यटक, मौके पर पहुंचे मुख्यमंत्री

Edited By Kuldeep, Updated: 20 Jun, 2022 07:54 PM

solan ropeway tourist rescue

हिमाचल के प्रवेश द्वार परवाणु के टी.टी.आर. होटल में रोप-वे में तकनीकी खराबी आने के कारण 11 लोग फंस गए, जिन्हें करीब 5 घंटे तक चले रैस्क्यू आप्रेशन के बाद सुरक्षित निकाला गया।

सोलन: हिमाचल के प्रवेश द्वार परवाणु के टी.टी.आर. होटल में रोप-वे में तकनीकी खराबी आने के कारण 11 लोग फंस गए, जिन्हें करीब 5 घंटे तक चले रैस्क्यू आप्रेशन के बाद सुरक्षित निकाला गया। होटल की तकनीकी टीम, पुलिस, एन.डी.आर.एफ., प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों के आपसी तालमेल व प्रयासों के केबल कार में फंसे दिल्ली के पर्यटकों को सुरक्षित बाहर निकालने में कामयाबी हासिल हुई। सूचना मिलने के बाद मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर भी मौके पर पहुंचे और पूरी घटना का जायजा लिया। इस दौरान फंसे हुए लोगों से मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बातचीत की और पूरी घटना के संबंध में जानकारी हासिल की। करीब 30 वर्ष बाद टी.टी.आर. के रोपवे में इस प्रकार की घटना सामने आई है, वहीं ट्राली में फंसे लोगों ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को जानकारी दी की वे 2 घंटे तक ट्रॉली में फंसे रहे और मदद का इंतजार करते रहे। जब मदद नहीं मिली तो उन्होंने एक वीडियो बनाकर मीडिया को भेजा और प्रशासन के अधिकारियों से संपर्क साधा जिसके बाद प्रशासन व सरकार के हरकत में आने के बाद रैस्क्यू प्रक्रिया शुरू हो पाई। वहीं मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने पूरे मामले में जांच के आदेश दिए हैं।

पर्यटकों में महिलाएं भी शामिल थीं। पर्यटकों के अनुसार करीब 2 घंटे तक वे होटल प्रबंधन की ओर से उन्हें बाहर निकालने के लिए मदद के लिए बातचीत करते रहे। उन्हें यह जानकारी दी कि बिजली गुल होने के कारण केबल कार फंसी है और उन्हें रस्सी के जरिए नीचे उतारा जाएगा। वहीं दूसरी ओर घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस और अग्निश्मन विभाग की टीम मौके पर पहुंची और इसके बाद रैस्कयू आप्रेशन शुरू हो पाया। केबल कार में फंसे 8 लोगों को होटल के तकनीकी व सुरक्षा स्टाफ ने सुरक्षित बाहर निकाला। इसके बाद करीब 4 बजे मौके पर एन.डी.आर.एफ. की टीम भी पहुंची और शेष 3 लोगों को बाहर निकाला। मौके पर स्वास्थ्य विभाग की टीम को भी तैनात किया गया था।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बताया कि सभी 11 पर्यटकों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। उन्होंने कहा कि जैसे ही उन्हें इस घटना की जानकारी मिली तुरंत ही प्रशासन व पुलिस की टीम को मौके पर भेजकर रैस्कयू आप्रेशन शुरू किया गया। उन्होंने कहा कि केबल कार में फंसे लोगों को बाहर निकालने के लिए उनकी काऊंसिलिंग करने में समय लग गया। जैसे ही लोग रस्सी के जरिए बाहर निकलने के लिए राजी हुए वैसे ही लोगों को बाहर निकालने का कार्य शुरू किया गया। उन्होंने कहा कि यह घटना कैसे हुई इसकी जांच की जाएगी।

दिल्ले के ये पर्यटक फंसे थे
कनिका गर्ग, अंजू गर्ग, डिंपल गोयल, आनंद गोयल, शीतल गुप्ता, रीता गोयल, राजेश गर्ग, मनोज गोयल, गोपाल गुप्ता, प्रवीण गर्ग, केबल कार में फंसे थे। जिन्हें सुरक्षित बाहर निकाला गया है। यह सभी लोग दिल्ली के ही रहने वाले हैं।

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

Match will be start at 01 Jul,2022 04:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!