87 परीक्षा केेंद्रों में 69427 अभ्यर्थियों ने दी पुलिस कांस्टेबल भर्ती की लिखित परीक्षा

Edited By Vijay, Updated: 03 Jul, 2022 09:56 PM

police constable recruitment written exam

हिमाचल पुलिस कांस्टेबल भर्ती की लिखित परीक्षा रविवार को कड़े सुरक्षा प्रबंधों के बीच आयोजित हुई। किसी भी तरह की गड़बड़ी रोकने के लिए विभाग ने पुख्ता कदम उठाए थे। परीक्षा केंद्रों में प्रवेश से पहले अभ्यर्थियों की चैकिंग मैटल डिटैक्टर सहित अन्य...

शिमला (राक्टा): हिमाचल पुलिस कांस्टेबल भर्ती की लिखित परीक्षा रविवार को कड़े सुरक्षा प्रबंधों के बीच आयोजित हुई। किसी भी तरह की गड़बड़ी रोकने के लिए विभाग ने पुख्ता कदम उठाए थे। परीक्षा केंद्रों में प्रवेश से पहले अभ्यर्थियों की चैकिंग मैटल डिटैक्टर सहित अन्य उपकरणों के अलावा कर्मियों द्वारा भी की गई। किसी भी तरह के इलैक्ट्रॉनिक गैजेट्स या उपकरण के प्रयोग को रोकने के लिए परीक्षा केंद्रों में 1351 जैमर लगाए गए थे। परीक्षा का आयोजन सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में किया गया व वीडियोग्राफी की गई। इसके साथ ही स्मार्ट वाच, हैंड बैग, सैललुर फोन, पेजर, ब्लू टूथ डिवाइस, ईयर फोन, बुक, छातों को भी परीक्षा केेंद्र के बाहर रखवाया गया। कई स्थानों पर अभ्यर्थियों के जूते, जैकेट, टोपी-कैप, बैल्ट भी खुलवाकर चैकिंग की गई। पुलिस विभाग के अनुसार प्रदेश भर में 87 परीक्षा केेंद्रों में लिखित परीक्षा आयोजित हुई। इस परीक्षा में बैठने के लिए 75681 उम्मीदवारों को अनुमति दी गई थी, जिसमें से 69427 ने दी परीक्षा और 6254 अनुपस्थित पाए गए। पुलिस मुख्यालय के अनुसार प्रदेश में लिखित परीक्षा शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुई।  

75802 उम्मीदवारों ने पास किया था ग्राऊंड टैस्ट
1334 पदों के लिए 75802 उम्मीदवारों ने ग्राऊंड टैस्ट उत्तीर्ण किया था। इसमें से पेपर लीक में फंसे 122 उम्मीदवारों को परीक्षा के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया था, ऐसे में 75681 उम्मीदवारों के लिए परीक्षा देने की अनुमति दी गई। वहीं प्रदेश सरकार ने एचआरटीसी की साधारण बसों में नि:शुल्क यात्रा की सुविधा प्रदान की। इसके तहत परीक्षार्थी परीक्षा स्थल तक पहुंचने और वापसी के लिए प्रवेश पत्र दिखाकर इस सुविधा का लाभ लेने के लिए पात्र थे। 

विजीलैंस के साथ सीआईडी भी रही तैनात
विभाग ने किसी भी तरह की गड़बड़ी रोकने के लिए रेंज स्तर पर 3 वरिष्ठ आईपीएस अधिकारियों को पर्यवेक्षक के तौर पर नियुक्त किया था। इसके साथ ही विजीलैंस और सीआईडी की टीमें भी अग्रिम खुफिया जानकारियां जुटाने के लिए तैनात की गई थीं। जिला स्तर पर एसपी और कमांडैंट की अध्यक्षता में औचक निरीक्षण के लिए उडऩदस्ते तैनाती किए गए थे। लिखित परीक्षा के दौरान पूरी गतिविधियों की निगरानी के लिए डीजीपी संजय कुंडू और एडीजी एपीटी पुलिस मुख्यालय में मौजूद रहे।

पहले 27 मार्च को हुई थी परीक्षा
इससे पहले कांस्टेबलों के 1334 पदों के लिए लिखित परीक्षा का आयोजन बीते 27 मार्च को किया गया था। इसके बाद 5 मई को पेपर लीक होने का खुलासा हुआ, ऐसे में मुख्यमंत्री ने मामले का संज्ञान लेते हुए आयोजित लिखित परीक्षा को रद्द करने के आदेश जारी किए, साथ ही जांच को एसआईटी का गठन किया गया। छानबीन में मिले साक्ष्यों के आधार पर एसआईटी 171 आरोपितों को गिरफ्तार कर चुकी है, जिनमें से 91 के खिलाफ अदालत में चार्जशीट भी दायर की जा चुकी है।

किस जिले में कितने अभ्यर्थियों ने दी परीक्षा

 जिला   परीक्षा में बैठे छात्र  अनुपस्थित
 कांगड़ा  18248  1786
 मंडी  12755  989
 चंबा  6402  851
 सिरमौर  5862  692 
 ऊना  5562   692
 शिमला  4693   447
 हमीरपुर   4566   260
 बिलासपुर  3907  278
 सोलन   3932   263
 कुल्लू    3030  267
 किन्नौर  330   22
 लहौल-स्पीति    115   12

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here
 

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!