मंडी का अंतर्राष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव संपन्न, भक्तों को आशीर्वाद देकर देवालय लौटे देवी-देवता

Edited By Vijay, Updated: 25 Feb, 2023 07:09 PM

mandi international shivratri festival conclude

मंडी में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव शनिवार को सम्पन्न हो गया। अंतर्राष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव में पधारे देवी-देवता भक्तों को आशीर्वाद देकर अपने-अपने देवालय लौट गए। शनिवार को समापन समारोह की अध्यक्षता राजस्व, बागवानी व जनजातीय विकास...

मंडी (रजनीश): मंडी में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव शनिवार को सम्पन्न हो गया। अंतर्राष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव में पधारे देवी-देवता भक्तों को आशीर्वाद देकर अपने-अपने देवालय लौट गए। शनिवार को समापन समारोह की अध्यक्षता राजस्व, बागवानी व जनजातीय विकास मंत्री जगत सिंह नेगी ने की। उन्होंने देव माधोराय मंदिर में पूजा-अर्चना कर पड्डल मैदान तक निकाली गई देव माधोराय की भव्य जलेब में भी भाग लिया। उन्होंने इससे पहले बाबा भूतनाथ मंदिर में भी पूजा-अर्चना की। इस अवसर पर पड्डल मैदान में जनसमूह को संबोधित करते हुए राजस्व मंत्री ने कहा कि मंडी शिवरात्रि ने पूरे विश्व में अध्यात्मिक प्रेरणा पुंज के रूप में अलग पहचान कायम की है। उच्च परंपराओं को संजोय शिवरात्रि महोत्सव समृद्वि, भाईचारा एवं प्रेमभाव को भी दर्शाता है। शैव, वैष्णव व लोक आस्था के साथ लोक संस्कृति का यह अनूठा समागम सभी के लिए एक बेजोड़ अनुभव है। मंडी शहर हिमाचल प्रदेश के प्राचीनतम शहरों में से एक है जो विशेषतौर पर ऐतिहासिक एवं धार्मिक दृष्टि से अपनी अलग पहचान रखता है। यहां स्थित प्राचीन एवं वैभवशाली मंदिर मंडी शहर को विशेष आकर्षण प्रदान करते हैं और इनके कारण ही मंडी को छोटी काशी के नाम से जाना जाता है। 
PunjabKesari

लोगों को नई ऊर्जा प्रदान करते हैं मेले और त्यौहार
राजस्व मंत्री ने कहा कि मंडी शिवरात्रि महोत्सव देव समाज का उत्सव है तथा इतिहास में यह पहली बार हुआ है कि सरकार की ओर से मंडी शिवरात्रि महोत्सव के पहले ही दिन देव समाज को एक करोड़ से ज्यादा की राशि दी गई है। उन्होंने कहा कि हम सबका यह दायित्व है कि हम अपनी संस्कृति एवं परंपराओं के प्रति सजग रहें और इन्हें संरक्षण प्रदान करें ताकि आने वाली पीढ़ियां भी अपने समृद्व अतीत पर गौरव अनुभव कर सकें। उन्होंने कहा कि मेले और त्यौहार लोगों को नई ऊर्जा प्रदान करते हैं और हमें इनमें सक्रियता से भाग लेना चाहिए और नि:स्वार्थ भाव से पीड़ित मानवता की मदद करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि समाज से बुराइयों का उन्मूलन प्रत्येक व्यक्ति की जिम्मेदारी है। उन्होंने युवाओं से समृद्ध संस्कृति का सम्मान करने तथा इसे आगे बढ़ाने की अपील की।
PunjabKesari

गारंटियों को पूरा कर रही प्रदेश सरकार
राजस्व मंत्री जगत सिंह नेगी ने कहा कि प्रदेश सरकार घोषणा पत्र में जारी की गई गारंटियों को पूरा कर रही है। आने वाले समय में महिलाओं को 1500 रुपए, 300 यूनिट बिजली फ्री, रोजगार सहित किसानों से दूध खरीदने जैसी सभी गारंटियों को पूरा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पूर्व भाजपा सरकार ने लगभग 75000 करोड़ रुपए का कर्ज राज्य पर छोड़ा है, जिससे राज्य की वित्तीय स्थिति प्रभावित हुई है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू के नेतृत्व वाली प्रदेश सरकार आर्थिक संसाधन जुटा रही है ताकि राज्य की वितीय स्थिति को सुधार कर विकास की गति को तेज किया जा सके। उन्होंने कहा कि दूरदराज के क्षेत्रों का भी प्रदेश के अन्य भागों की तरह एक बराबर विकास किया जाएगा। प्रदेश को फल राज्य बनाने की दिशा में कार्य किया जा रहा है। 
PunjabKesari

चौहटा की जातर का आयोजन, 200 से अधिक देवी-देवताओं ने लिया भाग
महोत्सव के अंतिम दिन शहर के चौहटा बाजार में चौहटा की जातर का आयोजन भी किया गया, जिसमें 200 से अधिक देवी-देवताओं ने भाग लिया। लोगों ने भारी संख्या में चौहटा की जातर में पहुंच कर देवी-देवताओं का आशीर्वाद प्राप्त किया। मंडी के अराध्य देव कमरूनाग सेरी मंच पर लोगों को दर्शन देने के लिए विराजमान रहे। अपने अराध्य देव कमरूनाग के दर्शनों के लिए सेरी मंच पर सुबह से ही लोगों की भारी भीड़ लगी रही। मेला समिति की ओर से डीसी अरिंदम चौधरी ने देवी-देवताओं को नजराना भेंट किया।
PunjabKesari

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!