4 लोगों ने 2 युवकों पर तेज हथियारों से किया हमला, एक की मौत

Edited By Vijay, Updated: 14 Mar, 2023 11:16 PM

2 youths attacked with sharp weapons death of one

पुलिस थाना कोट के अंतर्गत 4 लोगों द्वारा किए गए हमले में एक युवक की मौत का मामला दर्ज किया है। यह मामला अजय कुमार पुत्र देसराज गांव सिम्बर डाक खाना कोटला तहसील आनंदपुर साहिब ने थाना कोट में दर्ज करवाया है।

नयनादेवी (मुकेश): पुलिस थाना कोट के अंतर्गत 4 लोगों द्वारा किए गए हमले में एक युवक की मौत का मामला दर्ज किया गया है। यह मामला अजय कुमार पुत्र देसराज गांव सिम्बर डाक खाना कोटला तहसील आनंदपुर साहिब ने थाना कोट में दर्ज करवाया है। पुलिस में शिकायत दर्ज करवाते हुए उसने बताया कि रोहित उसका छोटा भाई है तथा महाबली में रेलवे टनल बनाने का काम कर रही है मैक्स कंपनी में वह हैल्पर का काम करता है। गत दिवस उसका भाई रोहित अपने दोस्त सुखदेव उर्फ सोनू के साथ रोज की तरह शाम को 7 बजे काम पर आ गया था क्योंकि उनकी रात की शिफ्ट थी। मुझे रात करीब 10.33 बजे मेरे भाई रोहित का फोन आया कि कुछ लोग काम वाली साइट पर आए हैं तथा मुझे व सोनू को ढूंढ रहे हैं। तुम मुझे आकर ले जाओ जिस पर मैं अपने मोटरसाइकिल पर रोहित को लेने महाबली आ गया।

आरोपी कुल्हाड़ी व दराटी से कर रहे थे वार
अजय के अनुसार वह महाबली पहुंचा तो देखा कि महाबली बाबा मंदिर से थोड़ा ऊपर टनल वाले रास्ते पर सुखदेव का मोटरसाइकिल एक तरफ खड़ा था तथा एक सफेद रंग की पिकअप बीच रास्ते में लगा रखी थी तथा 4 लोग मेरे भाई रोहित एवं सोनू पर कुल्हाड़ी एवं दराटी से वार कर रहे थे। मैंने उन चारों व्यक्तियों को पहचान लिया। इनमें से एक प्रदीप बाड़ा का रहने वाला, दूसरा सतनाम उर्फ सत्तू बाड़ा का रहने वाला है तीसरा अमरीक सिंह उर्फ राजा तथा चौथा नंद लाल उर्फ नंदू जोकि नाहड का रहने वाला है। उन्होंने मिलकर मेरे भाई रोहित एवं सुखदेव उर्फ सोनू के सिर, बाजू व बाकी शरीर पर जोरदार वार किए। इस लड़ाई में उन्हें खुद भी चोटें लगीं थी परंतु रोहित व सोनू का काफी खून बहा था। दोनों मौके पर गिरे पड़े थे। उक्त चारों मुझे देखकर गाड़ी में बैठकर मौके से भाग गए।

सोनू की इलाज के दौरान हुई मौत
अजय ने बताया कि मैंने उक्त चारों का मोटरसाइकिल पर पीछा किया लेकिन वे भागने में सफल रहे। इतने में मुझे पता चला कि मेरे भाई रोहित तथा सोनू की हालत खराब है जिसे स्थानीय लोग आनंदपुर ले आए गए। जब मैं अस्पताल पहुंचा तो मैंने पाया कि सुखदेव उर्फ सोनू की इलाज के दौरान मौत हो गई है तथा मेरा भाई रोहित अस्पताल में बेहोश है। वहीं डीएसपी नयनादेवी विक्रांत ने मामले की पुष्टि करते हुए कहा कि अभी मामले में छानबीन जारी है।

सोनू ने गुट्टी हत्याकांड में दी थी गवाही
अजय ने बताया कि सुखदेव उर्फ सोनू ने गुट्टी हत्याकांड में गवाही दी थी। इसी रंजिश के चलते उक्त चारों सुखदेव उर्फ सोनू तथा मेरे भाई रोहित को ढूंढते रहते थे तथा आज मौका पाकर उन्होंने सोनू को मार डाला, साथ ही मेरे भाई रोहित को मारने का प्रयास किया है। 

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!