पठानकोट-भरमौर NH किनारे चला विभाग का पीला पंजा, वन भूमि से 6 अवैध कब्जे हटाए

Edited By Vijay, Updated: 07 Dec, 2023 07:43 PM

remove illegal encroachment from forest land

वन विभाग ने वन भूमि पर किए गए अवैध कब्जों को हटाने की कवायद शुरू कर दी है। वीरवार को विभाग ने पठानकोट-भरमौर एनएच किनारे वन भूमि से करीब 6 अवैध कब्जों को हटाया।

चम्बा (डल्हौजी) (ब्यूरो): वन विभाग ने वन भूमि पर किए गए अवैध कब्जों को हटाने की कवायद शुरू कर दी है। वीरवार को विभाग ने पठानकोट-भरमौर एनएच किनारे वन भूमि से करीब 6 अवैध कब्जों को हटाया। वन मंडल डल्हौजी की टीम ने कार्रवाई करते हुए मौहाल चाहला में 4 तथा मौहाल टिप्परी के कांदू में 2 अवैध कब्जों को हटाया है। वन मंडल अधिकारी डल्हौजी रजनीश महाजन ने बताया कि वन अधिकारियों ने पुलिस और राजस्व अधिकारियों के साथ मिलकर अवैध कब्जों को हटाने की प्रक्रिया को पूरा किया। इसमें चाहला में राज कुमार पुत्र ज्ञान चंद निवासी गांव चाहला की दुकान, अमर नाथ पुत्र मुंशी निवासी गांव चेहली की दुकान, मोहिनंद्र पुत्र चतरो निवासी गांव चेहली और ओम प्रकाश पुत्र कर्म चंद निवासी गांव चाहला की दुकानें, देवी प्रसाद पुत्र मुंशी राम निवासी पंजोह और जगन नाथ पुत्र मनसा राम निवासी पंजोह की दुकान के रूप में वन भूमि पर किए गए अवैध कब्जों को हटाया गया है।
PunjabKesari

अगस्त में हटाए जा चुके हैं 2 कब्जे
डीएफओ ने बताया कि वन विभाग द्वारा अगस्त माह में भी वन भूमि से 2 अवैध कब्जे हटाए गए थे। इन सभी के वन भूमि पर नाजायज कब्जों के बेदखली के आदेश कलैक्टर एवं डीएफ डल्हौजी द्वारा पारित किए गए थे और सभी मामलों मे अपील मंडलायुक्त कांगड़ा तथा हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय के पास दायर की गई थी और सभी मामलों में डीएफओ डलहौजी के आदेश को बरकरार रखा गया था। आदेश की अनुपालना करते हुए ये सभी नाजायज कब्जे हटाए गए। मौके पर पुलिस विभाग से एएसआई विनोद कुमार और मिन्दरो राम व कानूनगो स्टाफ मौजूद रहा।
हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

Related Story

Trending Topics

India

397/4

50.0

New Zealand

327/10

48.5

India win by 70 runs

RR 7.94
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!