लम्बागांव रियासत के 488वें राजा आदित्य देव चंद कटोच पंचतत्व में विलीन

Edited By Vijay, Updated: 30 Dec, 2021 08:15 PM

raja aditya dev chand katoch merged into panchatattva

लम्बागांव रियासत के 488वें राजा व पूर्व केन्द्रीय मंत्री चन्द्रेश कुमारी के पति आदित्य देव चंद कटोच का वीरवार को लम्बागांव स्थित कुंजद्वार श्मशानघाट पर हिंदू रीति-रिवाज एवं राज परम्परा के अनुसार अंतिम संस्कार कर दिया गया। उनकी चिता को मुखाग्नि उनके...

लम्बागांव (अभिषेक): लम्बागांव रियासत के 488वें राजा व पूर्व केन्द्रीय मंत्री चन्द्रेश कुमारी के पति आदित्य देव चंद कटोच का वीरवार को लम्बागांव स्थित कुंजद्वार श्मशानघाट पर हिंदू रीति-रिवाज एवं राज परम्परा के अनुसार अंतिम संस्कार कर दिया गया। उनकी चिता को मुखाग्नि उनके बेटे ऐश्वर्य देव चंद कटोच ने दी। पूर्व केंद्रीय मंत्री चन्द्रेश कुमारी के पति आदित्य देव चंद कटोच का बुधवार शाम को धर्मशाला में 78 साल की उम्र में निधन हो गया था। वह पिछले कुछ समय से अस्वस्थ चल रहे थे।
PunjabKesari, Funeral Image

वीरवार को 11 बजे के करीब राजा आदित्य देव चंद कटोच की पार्थिव देह धर्मशाला से राजमहल लम्बागांव लाई गई, जहां 2 बजे तक शव को अंतिम दर्शनों के लिए रखा गया। इसके बाद इनकी अंतिम यात्रा कुंजद्वा श्मशानघाट को निकली। इनकी शव यात्रा में कांगड़ा-चम्बा लोकसभा के पूर्व सांसद चन्द्र कुमार, सुलह के पूर्व विधायक जगजीवन पाल, जयसिंहपुर के पूर्व विधायक यादविंद्र गोमा, पूर्व केसीसी बैंक अध्यक्ष जगदीश सिपहिया, पूर्व केसीसी बैंक उपाध्यक्ष भगवान दास ठाकुर, जिला परिषद सदस्य संजय राणा, लम्बागांव खंड की पंचायत समिति के पूर्व चेयरमैन रणजीत सिंह, लम्बागांव पंचायत के पूर्व प्रधान विनोद मेहरा, सोल वनेहड़ पंचायत के पूर्व प्रधान संजय चौधरी, लम्बागांव पंचायत के उपप्रधान हरिदास, बागकुल्जा पंचायत के पूर्व प्रधान ईल्मुदीन, जगमेल कटोच, केवल सिंह पठानिया, नरदेव कंवर, सुशील कौल सहित सैंकड़ों लोगों ने भाग लिया। क्षेत्र के विधायक रविन्द्र धीमान बीमार होने के चलते राजा की अंतिम यात्रा में शामिल नहीं हो सके। उनकी ओर से लम्बागांव पंचायत के पूर्व प्रधान विनोद मेहरा ने श्रद्धांजलि अर्पित की।
PunjabKesari, Former Central Minister Image

1990 में कांग्रेस से थुरल विधानसभा क्षेत्र से लड़ा था चुनाव

राजा आदित्य देव चंद कटोच का जन्म 25 दिसम्बर, 1943 में राजा ध्रुव देव चंद कटोच के घर हुआ। आदित्य देव चंद अपनी रियासत के 488वें राजा थे। उनकी शिक्षा-दीक्षा दून स्कूल देहरादून से हुई थी। 4 दिसम्बर, 1968 को उनकी शादी जोधपुर राजघराने के महाराज गजसिंह की बड़ी बहन रानी चन्द्रेश कुमारी से हुई। अपने मधुर स्वभाव के लिए जाने जाने वाले राजा आदित्य देव चंद ने 1990 में कांग्रेस से थुरल विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ा था।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

Related Story

Trending Topics

India

Australia

Match will be start at 24 Sep,2023 01:30 PM

img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!