MLA राजेंद्र राणा ने परिवार से मिलकर सुलझाया विवाद, जल्द खुलेगी गरने का गलु वाया पन्याला-कुठेड़ा सड़क

Edited By Vijay, Updated: 16 Apr, 2022 05:01 PM

mla rajender rana

गरने का गलु वाया पन्याला-कुठेड़ा बंद पड़ी सड़क जल्द खुलेगी। यह जानकारी सुजानपुर के विधायक राजेंद्र राणा ने दी है। पन्याला क्षेत्र की जनता की समस्या व मांग को लेकर विधायक राजेंद्र राणा कौश्लया देवी व उनके परिवार से इस बंद पड़ी सड़क की परेशानी को लेकर...

सुजानपुर (ब्यूरो): गरने का गलु वाया पन्याला-कुठेड़ा बंद पड़ी सड़क जल्द खुलेगी। यह जानकारी सुजानपुर के विधायक राजेंद्र राणा ने दी है। पन्याला क्षेत्र की जनता की समस्या व मांग को लेकर विधायक राजेंद्र राणा कौश्लया देवी व उनके परिवार से इस बंद पड़ी सड़क की परेशानी को लेकर मिले हैं। राणा ने बताया कि नडियाणा सडियाणा निवासी कौश्लया देवी व ज्ञान चंद का परिवार बेहद सभ्य व शालीन है। मुलत: हमीरपुर के बस्सी झनियारा ग्राम पंचायत की निवासी कौश्लया देवी व उसका सभ्य व सभ्रांत परिवार मुंबई में रहता है। राणा ने कहा कि सड़क बंद होने से लोगों की दिक्कतों को गंभीरता से समझते हुए कौश्लया देवी के परिवार से हुई मुलाकात में उन्होंने क्षेत्र की इस समस्या को संजीदा ढंग से लेते हुए शीघ्र ही बंद की गई सड़क को खोलने का भरोसा दिलाया है। राणा ने बताया कि इस समस्या को लेकर कौश्लया देवी के परिवार से हुई बैठक पूरी तरह से सकारात्मक रही है। उन्होंने कहा कि कौश्लया देवी का परिवार धार्मिक विचारों का परिवार है। यह परिवार हरगिज नहीं चाहता है कि उनके कारण क्षेत्रवासियों को कोई परेशानी हो। राणा ने कहा कि कौश्लया देवी के परिवार के साथ मुलाकात व बैठक करने के बाद वह यकीनी तौर पर कह सकते हैं कि गरने का गलु वाया पन्याला-कुठेड़ा सड़क शीघ्र ही यातायात के लिए खुलेगी। राणा ने कौश्लया देवी के परिवार का क्षेत्रवासियों की ओर से आभार व धन्यवाद प्रकट किया है।
PunjabKesari, MLA and Public Image

क्या है मामला

हमीरपुर मुख्यालय के समीपवर्ती गरने का गलु वाया पन्याला-कुठेड़ा तक जाने वाली सड़क को न्यायालय के आदेश पर विभाग ने बंद कर दिया है। यह सड़क काफी पुरानी बताई जाती है। इस सड़क का 2002 में प्रधानमंत्री सड़क योजना के तहत विस्तारीकरण किया गया था लेकिन विस्तारीकरण व पक्का करते समय इस सड़क की भूमि का अधिग्रहण नहीं किया गया था, जिस पर आपत्ति दर्ज करते हुए भूमि के मालिक ने 2009 में विभाग की इस गलती के लिए न्यायालय में चुनौती दी थी। 2015 में न्यायालय ने विभाग की गलती ठहराते हुए भूमि मालिकों के पक्ष में फैसला सुनाया, जिस पर विभाग ने एक बार फिर इस फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती दी, जिसको लेकर अब हाईकोर्ट ने फैसले को बरकरार रखते हुए भूमि मालिकों के पक्ष में सड़क को बंद करने का आदेश सुनाया है, जिस पर विभाग ने यह सड़क बंद कर दी थी। इससे गरने के गलु से लेकर कुठेड़ा तक आसपास के गांवों की जनता को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। चूंकि यह सड़क सुजानपुर विस क्षेत्र के अंतर्गत आती है, ऐसे में विधायक राणा ने समाज हित के इस कार्य में मध्यस्थता करते हुए भूमि मालिकों से मुलाकात करके एक लम्बी बैठक के बाद उन्हें सड़क खोलने के लिए राजी कर लिया है। सौहार्दपूर्ण वातावरण में हुई इस बैठक का नतीजा यह निकला कि कौश्लया देवी व उनके परिवार ने लोगों की दिक्कतों को देखते हुए सड़क को जल्द खोलने का भरोसा दिया है क्योंकि ईश्वर में आस्था रखने वाला यह परिवार कतई नहीं चाहता है कि उनके कारण क्षेत्रवासियों को कोई परेशानी हो।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!