स्वास्थ्य मंत्री ने पीलिया मामले में नौणी विश्वविद्यालय को दी क्लीन चिट, बाेले-छात्रों को घबराने की जरूरत नहीं

Edited By Vijay, Updated: 09 Mar, 2023 09:56 PM

health minister gives clean chit to nauni university in jaundice case

स्वास्थ्य मंत्री कर्नल धनीराम शांडिल ने पीलिया मामले में नौणी विश्वविद्यालय को क्लीन चिट दी है जबकि दूसरी ओर महामहिम राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल ने इस मामले में विश्वविद्यालय से रिपोर्ट तलब की है। धनीराम शांडिल ने वीरवार को नौणी स्थित डाॅ. वाईएस परमार...

सोलन (नरेश पाल): स्वास्थ्य मंत्री कर्नल धनीराम शांडिल ने पीलिया मामले में नौणी विश्वविद्यालय को क्लीन चिट दी है जबकि दूसरी ओर महामहिम राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल ने इस मामले में विश्वविद्यालय से रिपोर्ट तलब की है। धनीराम शांडिल ने वीरवार को नौणी स्थित डाॅ. वाईएस परमार बागवानी एवं वानिकी विश्वविद्यालय का दौरा किया और विश्वविद्यालय में पीलिया के मामलों का जायजा लिया। उन्होंने कहा कि नौणी विश्वविद्यालय के सभी छात्रावास में शुद्ध पेयजल उपलब्ध करवाया जा रहा है और शुद्ध पेयजल उपलब्ध करवाने हेतु पानी के टैंक से पानी की नियमित रूप से जांच की जा रही है। उन्होंने विश्वविद्यालय के छात्रों तथा स्थानीय लोगों से न घबराने का आग्रह किया है। उन्होंने विश्वविद्यालय के छात्रों से बातचीत कर उनकी मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार कर पूर्ण करने का आश्वासन भी दिया। 

धनीराम शांडिल ने कहा कि नौणी विश्वविद्यालय में पीलिया के मामलों की जानकारी मिलते ही उन्होंने नौणी विश्वविद्यालय के प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग को मामले की जांच के आदेश दे दिए थे। विश्वविद्यालय में पानी के नमूने लिए गए और जांच के उपरांत यह पाया गया कि विश्वविद्यालय का पानी बिल्कुल ठीक है। जांच में पाया गया कि जिन बच्चों को पीलिया हुआ है वे अलग-अलग क्षेत्रों से हैं और कुछ छात्र हाल ही में दूसरे राज्य के दौरे पर गए थे। उन्होंने बताया कि नौणी विश्वविद्यालय की जिस छात्रा की मौत हुई थी व पीलिया से नहीं बल्कि अपैंडिक्स फटने के कारण हुई थी। वह 27 जनवरी को दिल्ली चली गई थी।

डाॅ. वाईएस परमार बागवानी एवं वानिकी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. राजेश्वर सिंह चन्देल ने उत्पन्न स्थिति के बारे में स्वास्थ्य मंत्री को अवगत कराते हुआ कहा कि विश्वविद्यालय के परिसर में शुद्ध पेयजल उपलब्ध करवाया जा रहा है और परिसर में उपलब्ध करवाए जा रहे पानी की जांच नियमित रूप से सुनिश्चित की जा रही है। इसके अतिरिक्त सहायक खाद्य आयुक्त द्वारा आसपास के ढाबों की खाद्य पदार्थों की जांच भी करवाई जा रही है। वहीं मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ. राजन उप्पल ने भी उनके कार्यालय द्वारा की गई जांच से मंत्री को अवगत करवाया। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के कुलसचिव संदीप नेगी, नौणी पंचायत प्रधान मदन हिमाचली, उपमंडलाधिकारी सोलन संजय स्वरूप, स्वास्थ्य विभाग से मामले के जांच अधिकारी डाॅ. अमित रंजन तथा अन्य गण्यमान्य व्यक्ति भी उपस्थित थे।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!