विधानसभा के बाहर जलरक्षकों का प्रदर्शन, पुलिस के साथ हुई धक्का-मुक्की

Edited By Vijay, Updated: 10 Aug, 2022 10:32 PM

demonstration of water guards outside the assembly

विधानसभा मानसून सत्र के पहले दिन पहले तो जलरक्षकों ने विधानसभा परिसर के बाहर प्रदर्शन किया लेकिन देर शाम मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के आश्वासन के बाद जलरक्षकों ने आंदोलन समाप्त कर दिया।

शिमला (राजेश): विधानसभा मानसून सत्र के पहले दिन पहले तो जलरक्षकों ने विधानसभा परिसर के बाहर प्रदर्शन किया लेकिन देर शाम मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के आश्वासन के बाद जलरक्षकों ने आंदोलन समाप्त कर दिया। बुधवार को विधानसभा के मानसून सत्र के दौरान जलरक्षकों ने चौड़ा मैदान में सरकार के खिलाफ  प्रदर्शन किया और जमकर नारेबाजी की। इस दौरान जलरक्षकों और पुलिस के बीच झड़प भी हो गई। जलरक्षकों ने एक ही नारा लगाया ‘हक मिलेगा काम करेंगे वरना पानी बंद करेंगे’। पुलिस प्रशासन द्वारा भीड़ को नियंत्रित करने के लिए सुरक्षा बल तैनात किया था। चारों ओर से बैरिकेडिंग कर जलरक्षकों को घेरा बनाकर रोका था। इस बीच एसडीएम शिमला ग्रामीण निशांत ठाकुर मौके पर पहुंचे और प्रदर्शनकारियों से 5 लोगों के नाम की सूची देकर सरकार से बातचीत करवाने का आश्वासन दिया लेकिन प्रदर्शनकारियों ने प्रस्ताव ठुकरा दिया और भड़क गए। इस बीच कुछ प्रदर्शनकारियों ने पुलिस बैरिकेड को हटाने के लिए धक्का लगाना शुरू कर दिया, जिससे स्थिति तनावपूर्ण हो गई।
PunjabKesari

मुख्यमंत्री ने किया आश्वस्त, जल्द अनुबंध होगा 8 साल
हिमाचल जलरक्षक महासंघ प्रदेशाध्यक्ष ज्वालू राम ने कहा कि प्रदर्शन के बाद मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने आश्वस्त किया है कि अगली कैबिनेट बैठक में अनुबंध कार्यकाल 12 साल घाटकर 8 साल कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के आश्वासन के बाद महासंघ ने निर्णय लिया है कि आंदोलन वापस लेंगे और वीरवार से जलरक्षक काम पर लौटेंगे। 

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!