चुनावों की घोषणा के साथ नजर आएगी सीएम जयराम को जमीन : मुकेश अग्निहोत्री

Edited By Vijay, Updated: 12 Jun, 2022 08:17 PM

mukesh agnihotri target on cm jairam thakur

नेता विपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को चुनौती दी है कि यदि उनमें दम है तो आने वाले विधानसभा के आखिरी सत्र में वह उनसे आंख से आंख मिलाने की हिम्मत जुटाएं। रविवार को घालुवाल में उनकी बेटी आस्था अग्निहोत्री द्वारा आयोजित किए गए...

ऊना (सुरेन्द्र): नेता विपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को चुनौती दी है कि यदि उनमें दम है तो आने वाले विधानसभा के आखिरी सत्र में वह उनसे आंख से आंख मिलाने की हिम्मत जुटाएं। रविवार को घालुवाल में उनकी बेटी आस्था अग्निहोत्री द्वारा आयोजित किए गए हरोली मिलन समारोह को संबोधित करते हुए अग्निहोत्री ने कहा कि 3 माह बाद जब चुनाव घोषित होंगे तो जयराम को जमीन नजर आ जाएगी। अभी सत्ता के दम पर लोगों को डरा रहे हैं लेकिन कुछ दिनों के बाद दृश्य बदल जाएगा। आने वाली सरकार कांग्रेस की होगी। सरकार बनने पर पेपर बेचने वाले सलाखों के पीछे होंगे। सरकार ने आखिर सीबीआई जांच क्यों नहीं होने दी है? प्रदेश और केंद्र में भाजपा की सरकार है और ऐसे में सीबीआई को जांच से रोका गया है। पेपर लीक मामले में एसआईटी में वही लोग शामिल कर दिए गए हैं जो जिम्मेदार हैं। अब लीपापोती की गई है और एक प्रिंटिंग प्रैस के चतुर्थ श्रेणी कर्मी को मुख्य आरोपी बना दिया गया है। अग्निहोत्री ने आरोप लगाया कि पेपर बेचने वाले या सचिवालय में बैठे हैं या पुलिस मुख्यालय में।

...तो सीएम को नैतिकता के आधार पर छोड़ देनी चाहिए कुर्सी 
नेता विपक्ष ने कहा कि वर्ष 2020 में भी पेपर लीक हुआ था। जेओए आईटी का पेपर भी लीक हुआ। पेपर लीक करने वाले सरकार के नजदीकी हैं अन्यथा यह कभी नहीं हो सकता। जितने पेपर लीक हुए हैं उससे तो सीएम को नैतिकता के आधार पर कुर्सी छोड़ देनी चाहिए। उन्होंने पूछा कि मंडी का वह व्यक्ति कौन है जो मेधावी विद्याॢथयों को लैपटॉप मुहैया करवाने वाली कंपनी से बातचीत करने का दबाव डाल रहा था। 4 वर्ष लैपटॉप नहीं आने दिए गए। अब आखिरी वर्ष में केवल उन्हीं छात्रों को लैपटॉप दिए गए जो 21 वर्ष के हैं और जिनका वोट बन चुका है। वोट की खातिर यह लैपटॉप की राजनीति की गई है और दूसरे छात्रों को लैपटॉप से वंचित किया गया है। 

शराब के ठेकों की नीलामी क्यों नहीं हुई?
मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि आखिर शराब के ठेकों की नीलामी क्यों नहीं हुई? इसके पीछे क्या राज है? प्रदेश के खजाने पर 3000 करोड़ का नुक्सान हुआ, उसका जिम्मेदार कौन है? आखिर यह पैसा किसकी जेब में गया? उन्होंने कहा कि प्रदेश में घर मंगवाने पर दाल तो नहीं आती लेकिन शराब की बोतल एक फोन कॉल पर पहुंच जाती है। शराब, खनन और भू व वन माफिया दनदना रहा है। रात का अंधेरा होते ही भाजपा का नेता चोला बदलकर नदियों में पहुंच जाते हैं। पंजाब में रेत का मामला जोरशोर से उठा तो पूरे प्रदेश में चुनावों में सफाया हो गया। 

जिसके पास होंगे 40 विधायक वह बनेगा सीएम
मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि चुनाव से पहले कई लोग सीएम बनना चाहते हैं। सीएम वही बनेगा जो पहले विधायक बनेगा और सरकार उसी की होगी जिसके पास 40 विधायक होंगे। जनता सर्वोपरी है और ममता बैनर्जी, धामी, बादल, कैप्टन और मौर्या जैसे नेता जनता द्वारा नकार दिए गए। अग्रिहोत्री ने कहा कि यदि वह नेता विपक्ष के पद पर पहुंचे हैं तो यह हरोली की जनता का आशीर्वाद है और यह जनता का सबसे बड़ा सम्मान है। 

सरकार आने पर लिया जाएगा पूरा हिसाब
मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि आखिर जिला ऊना की स्वां नदी में खनन हो रहा है तो डीसी और एसपी कहां हैं? क्यों वह हकीकत नहीं देख पा रहे हैं। एसडीएम और डीएसपी भी जवाब दें कि वह किसलिए तैनात हैं? कांग्रेस सरकार आने पर पूरा हिसाब किया जाएगा। उन्होंने महंगाई को लेकर भी भाजपा सरकार पर जमकर प्रहार किए और उन्होंने कहा कि महंगाई की वजह से लोग बेहाल हो चुके हैं और 250 रुपए की सीमैंट की बोरी 500 की और सरिया 9000 रुपए तक पहुंच गया है।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

Match will be start at 01 Jul,2022 04:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!