सतलुज नदी का सीना छलनी करने में जुटा खनन माफिया, प्रशासन बना मूकदर्शक

Edited By Vijay, Updated: 07 Mar, 2020 03:56 PM

mining mafia in satluj river

जिला किन्नौर में खनन माफिया दिन-रात सतलुज नदी का सीना छलनी करने में जुटा हुआ है जबकि किन्नौर जिला प्रशासन पूरी तरह से मूकदर्शक बनकर तमाशा देखा रहा है, ऐसे में सवाल उठता है कि शासन व प्रशासन अखिर क्यों खनन माफिया पर नकेल कसने में नाकाम साबित हो रहे...

किन्नौर (अनिल): जिला किन्नौर में खनन माफिया दिन-रात सतलुज नदी का सीना छलनी करने में जुटा हुआ है जबकि किन्नौर जिला प्रशासन पूरी तरह से मूकदर्शक बनकर तमाशा देखा रहा है, ऐसे में सवाल उठता है कि शासन व प्रशासन अखिर क्यों खनन माफिया पर नकेल कसने में नाकाम साबित हो रहे हैं। बता दें कि सतलुज नदी पर अवैध खनन होने से प्रति वर्ष सरकारी खजाने पर भी लाखों रुपए का चूना लग रहा है और खनन माफिया जमकर चांदी कूट रहा है।
PunjabKesari, Mining Image

किन्नौर के पुलिस अधिक्षक मीडिया में दावा कर रहे हैं कि किन्नौर जिला में किसी को भी खनन करने के लिए खनन पट्टा नहीं है, इसलिए किसी प्रकार के माइनिंग नहीं होने दी जाएगी। खनन को रोकने के लिए पुलिस विभाग तैयार है परंतु अभी भी पोवारी के पास सतलुज नदी में बड़ी-बड़ी मशीनें अवैध खनन को अंजाम दे रही हैं।
PunjabKesari, Mining Image

गौर रहे कि प्रदेश विधानसभा में भी अवैध खनन को रोकने के लिए प्रदेश सरकार ने सख्त कदम उठाने की बात कही थी परंतु किन्नौर जिले में खनन माफिया बैखोफ होकर अवैध खनन को अंजाम दे रहा है।

Related Story

Trending Topics

Ireland

221/5

20.0

India

225/7

20.0

India win by 4 runs

RR 11.05
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!