धर्मशाला में सरकार व पूर्व मंत्री हुए विकास कार्यों को लेकर आमने-सामने, अब पूर्व मंत्री ने रोप-वे पर उठाए सवाल

Edited By prashant sharma, Updated: 28 Jan, 2022 11:00 AM

government and former minister were face to face with development works

प्रदेश की राजनीति में अहम स्थान रखने वाले धर्मशाला विधान सभा क्षेत्र में विकास कार्यों को लेकर प्रदेश सरकार व पूर्व मंत्री आमने सामने आ गए है। पूर्व मंत्री सुधीर शर्मा रोज सरकार को किसी न किसी मुद्दे पर कटगड़े पर खड़ा करके सरकार के काम काज पर प्रश्न...

धर्मशाला (जिनेश) : प्रदेश की राजनीति में अहम स्थान रखने वाले धर्मशाला विधान सभा क्षेत्र में विकास कार्यों को लेकर प्रदेश सरकार व पूर्व मंत्री आमने सामने आ गए है। पूर्व मंत्री सुधीर शर्मा रोज सरकार को किसी न किसी मुद्दे पर कटगड़े पर खड़ा करके सरकार के काम काज पर प्रश्न चिन्ह लगा रहे है। पहले मुख्यमंत्री द्वारा हालही में धर्मशाला विधानसभा में किए गए शिलान्यासों व उद्घाटनों को लेकर सरकार को घेर चुके है। पूर्व मंत्री का कहना था कि कांग्रेस सरकार द्वारा किए गए कार्यों का श्रेय भाजपा की सरकार ले रही है। वहीं अब पूर्व मंत्री ने हालहीं में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर द्वारा किए गए धर्मशाला रोप-वे पर भी पूर्व मंत्री सुधीर शर्मा ने प्रश्न उठा दिए है।

सुधीर का कहना है कि धर्मशाला रोप-वे का उद्धाटन भाजपा सरकार ने अपना श्रेय लेने के लिए आनन-फानन में कर दिया। उन्होंने आरोप लगाए है कि सरकार ने इसका उद्घाटन आनन-फोनन में कर दिया। जबकि रोप-वे पूरी तरह तैयार ही नहीं था। इसलिए रोप-वे को उद्धाटन के कुछ दिन बाद बंद कर देना पड़ा। पूर्व मंत्री द्वारा सरकार के विकास कार्यों पर उठाए जा रहे सबालों को लेकर धर्मशाला में कांग्रेस व भाजपा नेताओं के बीच सियास्त गर्माने लग पड़ी है। वहीं स्थानीय विधायक विशाल नैहरिया का कहना है कि पूर्व मंत्री ने अपने कार्यालय के दौरान कुछ कार्य नहीं किया है तथा जब भाजपा की सरकार काम कर रही है तो उन्हें लग रहा है कि प्रदेश में काम ही नहीं हो रहा है। नैहरिया ने कहा कि चुनावी वर्ष होने पर ही पूर्व मंत्री को विकास कार्य क्यों दिखाई दे रहे है। 

विस क्षेत्र के प्रस्तावित कार्यों को लेकर सक्रिय हुए विधायक

चुनावी वर्ष शुरू होते ही धर्मशाला विधानसभा क्षेत्र में प्रस्तावित बचे कार्यों को लेकर स्थानीय विधायक विशाल नैहरिया सक्रिय हो गए है। विधायक विस क्षेत्र के बड़े होने वाले कार्यों की समीक्षा खुद कर रहे है। धर्मशाला की महत्वकांशी केंद्रीय विश्वविद्यालय निर्माण सहित क्षेत्र के लंबित परियोजनाओं को लेकर अधिकारियों के साथ बैठकों का दौर शुरू कर दिया तथा परियोजनाओं को समाप्त करने के लिए समय सीमा भी निधारित कर दी है ताकि आगामी चुनावों में विधायक जनता के सामने आपना रिपोर्ट कार्ड रख सकें। 

साधु के अंतिम संस्कार पर भी गर्माई धर्मशाला की सियास्त 

विधायक विशाल नैहरिया द्वारा बुधवार को चमुंडा मंदिर के शमशान घाट में एक साधु के अंतिम संस्कार करने पर धर्मशाला की सियास्त गर्मा गई है। साधु अंतिम संस्कार करने पर कांग्रेस पदाधिकारियों ने सबाल उठाए है।हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता अजीत नैहरिया और मीडिया पैनालिस्ट संजीव गांधी ने कहा कि साधु का अंतिम संस्कार करना हिन्दुत्व के खिलाफ है। साधु का अंतिम संस्कार नहीं बल्कि साधुओं को समाधि दी जाती है। साथ ही उन्होंने विधायक से पूछा है कि साधु के अंतिम संस्कार के बाद क्या विधायक साधु की अस्थी विसर्जन के लिए हरिद्वार भी जाएंगे। धर्मशाला विधायक विशाल लैहरिया का कहना है कि रेप-वे को लेकर पूर्व मंत्री राजनीति कर रहे है। कुछ मैंटैनस के चलते रोप-वे को बंद किया गया है तथा इसे सोमवार से फिर खोल दिया जाएगा। कांग्रेस के नेताओं को प्रदेश सरकार के कार्य देखकर बौखलाहट हो रही है। 
 

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!