नाबालिग लड़की की संदिग्ध मौत, बिना पोस्टमार्टम करवाए शव ले गए परिजन

  • नाबालिग लड़की की संदिग्ध मौत, बिना पोस्टमार्टम करवाए शव ले गए परिजन
You Are HereHimachal Pradesh
Thursday, October 12, 2017-1:01 PM

घुमारवीं: बिलासपुर के घुमारवीं की कोठी पंचायत में एक नाबालिग लड़की की रहस्यमयी हालात में मौत हो गई। घटना बुधवार दोपहर की है। बताया जाता है कि अचानक गला घुटने से लड़की की तबीयत ज्यादा बिगड़ने पर उसे घुमारवीं के ही रेनबो अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। परिवार के लोग बगैर पोस्टमार्टम करवाए ही लाश को घर ले गए और देर शाम गांव के श्मशानघाट में ही बेटी के शव के दाह संस्कार की तैयारी करने लगे। पिता कोठी इलाके में ही फोटोग्राफर की दुकान चलाते हैं।


मृतक ज्योति ने दिन में अचानक गला घुटने की शिकायत की थी 
बेटी 12वीं कक्षा में सीनियर सैकेंडरी स्कूल कोठी में ही पढ़ती थी। पंचायत प्रधान सुनीता धीमान ने यहां बताया कि उन्हें गांव के लोगों ने सूचना दी है कि कोठी भराड़ी गांव के रहने वाले एक व्यक्ति की बेटी ज्योति ने दिन में अचानक गला घुटने की शिकायत की थी। यह भी बताया गया कि कथित तौर पर उसने सिर में जुएं मारने वाली दवा रात को डाली थी जिसके बाद ही उसकी दिन में तबीयत खराब हो गई। हालांकि प्रधान ने कहा है कि इस बात की पुष्टि परिवार के लोगों ने नहीं की है। प्रधान ने बताया कि परिवार गरीब है और ज्योति का पिता फोटोग्राफर की दुकान करके अपने परिवार को पाल रहा था। 


बिना पोस्टमार्टम करवाए शव ले गए परिजन 
उन्होंने बताया कि ज्योति होनहार थी और पढ़ने में प्रतिभाशाली थी लेकिन अचानक आज उसकी तबीयत बिगड़ने के बाद पहले उसे घुमारवीं के सरकारी अस्पताल में ले जाया गया, जहां से उसे रेनबो में ले जाया गया लेकिन वहां पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस संबंध में पुलिस को सूचना नहीं दी गई है। ज्योति के शव का पोस्टमार्टम भी नहीं किया गया है क्योंकि परिवार के लोगों ने इससे इंकार कर दिया है और देर शाम को ही गांव के श्मशानघाट में दाह संस्कार करने लगे। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!