हिमाचल में गरीबों का आशियाना बनाने का सपना टूटा, महंगाई ने पकड़ा जोर

  • हिमाचल में गरीबों का आशियाना बनाने का सपना टूटा, महंगाई ने पकड़ा जोर
You Are HereHimachal Pradesh
Wednesday, October 11, 2017-3:26 PM

हमीरपुर: हिमाचल में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले राज्य की जनता को बड़ा झटका देते हुए कंपनियों ने सीमेंट के दाम बढ़ा दिए है। बता दें कि एसीसी एवं अंबुजा कंपनियों ने सीमेंट के रेट में 5 रुपए प्रति बैग बढ़ोतरी कर दाम बढ़ाए है। गौरतलब है कि बीते दिन अल्ट्राटेक कंपनी ने 2 रुपए प्रति बैग दाम बढ़ा दिए हैं और कंपनी अाज से 5 रुपए दाम बढ़ाने की तैयारी कर रही है। सीमेंट के दाम में उछाल के दौरान आम व्यक्ति के लिए अपने घर का सपना देखना महंगा हो गया है। हिमाचल में एसीसी, अंबुजा और अल्ट्राटेक (जेपी) के प्लांट होने के बावजूद प्रदेशवासियों को सीमेंट महंगी दरों पर मिल रहा है। दरअसल पिछले पांच सालों में सीमेंट के दामों में 50 रुपए की बढ़ोतरी हुई है। सूबे की पंचायतों में चल रहे मनरेगा और अन्य विकास कार्य भी प्रभावित होंगे। बाजार में लोगों को सीमेंट का बैग अब 360 से 365 रुपए तक ही मिलेगा।

लोगों घर बनाने में काफी परेशानी 
लोगों का कहना है कि जुलाई माह से जीएसटी लागू होने के बाद सीमेंट के दाम बढ़ने के बजाय घटने चाहिए थे। लेकिन यह तो बढ़ गए है। जिनसे उनहें घर बनाने में काफी परेशानी अाएगी। बताया जा रहा है कि सीमेंट के प्रति बैग पर खर्चा 35 रुपए से घटकर 28 रुपए हो गया है। पड़ोसी राज्यों में सीमेंट का एक बैग 250 रुपए में बिक रहा है। हिमाचल में एसीसी, अंबुजा और अल्ट्राटेक (जेपी) के प्लांट होने के बावजूद प्रदेशवासियों को सीमेंट महंगी दरों पर मिल रहा है। सीमेंट के दामों को लेकर प्रेम कुमार धूमल ने कहा कांग्रेस ने विस चुनाव में वादा किया था कि वह सत्ता में आए तो सीमेंट के दाम कम करेंगे लेकिन यह तो उलटा बढ़ रहे हैं। सरकार को दाम बढ़ाने का कारण जनता के सामने स्पष्ट करना चाहिए।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!