Limca Book में 2 बार नाम दर्ज करवा चुकी हिमाचल की बेटी का यह है अगला लक्ष्य

  • Limca Book में 2 बार नाम दर्ज करवा चुकी हिमाचल की बेटी का यह है अगला लक्ष्य
You Are HereHimachal Pradesh
Tuesday, November 14, 2017-10:37 PM

शिमला: हिमाचल प्रदेश की श्रुति गुप्ता का अगला लक्ष्य माऊंट एवरैस्ट पर कथक नृत्य कर रिकार्ड बनाने का है। इसके लिए उन्होंने तैयारियां शुरू कर दी हैं। शीघ्र ही वह माऊंट एवरैस्ट पर कथक कर रिकार्ड बनाने का प्रयास करेंगी। श्रुति अभी तक 2 बार लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज करवा चुकी हैं। उन्होंने ट्रांस हिमालय की ऊंचाइयों पर कथक कर कीर्तिमान बनाया है। उन्होंने वर्ष 2015 में पहली बार लाहौल-स्पीति के बारालाचा पास में 17,198 फुट की ऊंचाई पर मानइस 4 डिग्री सैल्सियस के तापमान में 7 मिनट तक कथक नृत्य किया था। 
PunjabKesari
18,380 फुट की ऊंचाई पर -24 डिग्री तापमान में किया नृत्य
इसके बाद वर्ष 2016 में उन्होंने खारदुंगला ला पास (लद्दाख, जम्मू एवं कश्मीर) में 18,380 फुट की ऊंचाई पर भारतीय सैन्य बलों और भारतवासियों के उत्साह को प्रदर्थित करने के लिए भारतीय सेना और भारत-तिब्बत सीमा पुलिस बल के जवानों के समक्ष कथक नृत्य कर दूसरी बार लिमका बुक ऑफ रिकार्ड में अपना नाम दर्ज करवाया था। उन्होंने इस दौरान माइनस 24 डिग्री सैल्सियस तापमान में 20 मिनट तक वंदे मातरम् थीम पर कथक नृत्य कर लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड में नाम दर्ज करवाया। उन्होंने इस दौरान बिना गर्म कपड़ों के कथक कॉस्ट्यूम में नृत्य किया था। 
PunjabKesari
राष्ट्रीय स्तर पर प्रस्तुत कर चुकी हैं 300 से अधिक कार्यक्रम 
श्रुति गुप्ता मूल रूप से हिमाचल प्रदेश के सोलन की रहने वाली हैं। उन्होंने पंजाब यूनिवर्सिटी से इंडियन क्लासिकल डांस में एम.ए. की डिग्री हासिल की है। इसके अलावा उन्होंने हिमाचल प्रदेश यूनिवॢसटी से इंडियन इंस्ट्रूमैंटल म्यूजिक में एम.ए. की डिग्री भी प्राप्त की है। उनके द्वारा प्राप्त की गई उपलब्धियों व सामाजिक कार्यों के लिए उन्हें सम्मानित किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि अभी तक वह 300 से अधिक राष्ट्रीय स्तर के कार्यक्रम प्रस्तुत कर चुकी हैं और अभी वह वर्तमान में छात्रों को कई वर्षों से कथक की ट्रेनिंनग प्रदान कर रही हैं। 
PunjabKesari
बचपन से ही था नृत्य का शौक  
विशेष बातचीत में श्रुति गुप्ता ने बताया कि उन्हें बचपन से ही नृत्य का शौक था और उन्होंने कथक नृत्य की विशेष ट्रेनिंग प्राप्त की है। उन्होंने बताया कि 2 बार लिमका बुक ऑफ रिकार्ड में नाम दर्ज होने के बाद अब उनका अगला लक्ष्य माऊंट एवरैस्ट पर कथक नृत्य प्रस्तुत कर रिकार्ड बनाने का है। उन्हें अभी तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ-साथ देश की कई बड़ी हस्तियां सम्मानित कर चुकी हैं। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!