यहां यमदूत बनकर मंडरा रही हैं हाई वोल्टेज तारें, कभी भी आ सकती है मौत

  • यहां यमदूत बनकर मंडरा रही हैं हाई वोल्टेज तारें, कभी भी आ सकती है मौत
You Are HereHimachal Pradesh
Friday, May 19, 2017-9:41 AM

टाहलीवाल : हिमाचल प्रदेश में प्राचीन शिव मंदिर कमेटी टाहलीवाल के प्रधान निरंजन सिंह व महासचिव सतपाल शर्मा ने बताया कि प्राचीन शिव मंदिर के प्रांगण व बरामदे की छत के ऊपर गुजर रही विद्युत विभाग की हाई वोल्टेज तारें कभी भी दुर्घटना का कारण बन सकती हैं। प्राचीन शिव मंदिर में करवाए जाने वाले धार्मिक समारोह में हजारों श्रद्धालु यहां शीश नवाने पहुंचते हैं। इन हाई वोल्टेज तारों के मंदिर की छत पर गुजरने के चलते कभी भी बड़ी दुर्घटना हो सकती है। दूसरी तरफ मंदिर परिसर में भवन निर्माण कार्य भी इन हाई वोल्टेज तारों के कारण काफी अर्से से रुका पड़ा है।

भवन से गुजर रहा तारों का जंजाल
प्राचीन मंदिर कमेटी पदाधिकारी निरंजन सिंह, सतपाल शर्मा, राजकुमार व राजू ने बताया कि इस संबंध में विद्युत विभाग के अधिकारियों को लिखित व मौखिक तौर पर कई बार अवगत करवाया जा चुका है और हाल ही में उद्योग मंत्री मुकेश अग्निहोत्री को भी इस संबंध में मांग पत्र सौंपा गया है। इस बारे में विभाग के एस.डी.ओ. सतनाम सिंह ने बताया कि 2 सप्ताह में प्राचीन शिव मंदिर के प्रांगण व भवन से गुजर रही तारों को हटा दिया जाएगा। नई विद्युत लाइन का काम प्रगति पर है। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!