सुक्खू से इस्तीफा मांगने पर भड़के कांग्रेसी, कांग्रेस नेता को दी यह नसीहत

  • सुक्खू से इस्तीफा मांगने पर भड़के कांग्रेसी, कांग्रेस नेता को दी यह नसीहत
You Are HereHimachal Pradesh
Thursday, April 20, 2017-12:05 AM

ऊना: मीडिया पैनलिस्ट एवं पूर्व कांग्रेस प्रवक्ता विजय डोगरा द्वारा कांग्रेस अध्यक्ष सुखविन्दर सिंह सुक्खू से मांगे गए त्याग पत्र के बाद कांग्रेसी नेता भड़क उठे हैं। युवा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष संजीव नकई, एस.सी. मोर्चा के अध्यक्ष स्वर्ण चंद, ऊना ब्लाक अनुसूचित वर्ग के अध्यक्ष प्रीतम चंद व पूर्व सचिव राम सिंह सहित दर्जनों नेताओं ने डोगरा को नसीहत दी है कि कोई भी बयान देने से पहले तमाम तथ्यों पर विचार करना चाहिए। कांग्रेसियों ने कहा कि सुक्खू की अध्यक्षता में कांग्रेस संगठन बेहतर काम कर रहा है। उन्होंने कहा कि सुक्खू की अगुवाई में ही 2017 में चुनाव होंगे और कांग्रेस पार्टी सरकार बनाएगी। 

भाजपा के हाथों की कठपुतली बनकर दे रहे बयान 
उधर, दूसरी तरफ ऊना ब्लाक कांग्रेस के मीडिया प्रभारी वरुण पुरी, रोहन द्विवेदी व विवेक ठाकुर सहित अन्य नेताओं ने विजय डोगरा को भाजपा का एजैंट करार दिया है। उन्होंने कहा कि डोगरा को अपने कद में रहकर बयानबाजी करनी चाहिए थी। ऐसी कांग्रेस विरोधी गतिविधियों को सहन नहीं किया जाएगा। वास्तव में विजय डोगरा भाजपा के हाथों की कठपुतली बनकर बयान दे रहे हैं। 

पार्टी ने जारी किया नोटिस 
कांग्रेस अध्यक्ष से इस्तीफा मांगने पर कांग्रेस नेता को पार्टी ने नोटिस जारी कर 10 दिनों के भीतर स्पष्टीकरण दिए जाने की मांग की है अन्यथा उनके खिलाफ पार्टी संविधान के मुताबिक अनुशासनात्मक कार्रवाई किए जाने की बात कही गई है। पार्टी महासचिव हरभजन सिंह भज्जी की तरफ से जारी किए गए पत्र में कहा गया है कि पार्टी के पदाधिकारी होने के नाते उन्हें कोई भी बयानबाजी नहीं करनी चाहिए थी। 

भाजपा का एजैंट कहने वालों पर करूंगा मानहानि का दावा : डोगरा
वहीं कांग्रेस नेता विजय डोगरा ने कहा है कि जब उन्हें पार्टी की तरफ से कारण बताओ नोटिस मिलेगा तो वह इसका सिलसिलेवार उत्तर देंगे। डोगरा ने कहा कि वह उन लोगों पर मानहानि का केस दायर करेंगे जो उन्हें भाजपा का एजैंट करार दे रहे हैं। कांग्रेस नेता ने कहा कि उन्हें किसी से सर्टीफिकेट लेने की आवश्यकता नहीं है। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!