बजरी से लोड टिप्पर के गुजरते ही धराशायी हुआ पुल, चालक को आईं मामूली चोटें

Edited By Vijay, Updated: 11 Jun, 2022 05:26 PM

bridge collapsed due to heavy weight of tipper

सराज क्षेत्र के अंतर्गत सुधराणी-थाटा सड़क मार्ग को जोड़ने वाला आलीगाड़ नाला पुल लोड टिप्पर के गुजरने के साथ ही धराशायी हो गया। सूचना मिलते ही स्थानीय ग्रामीण राहत कार्य में जुट गए, वहीं घटनास्थल पर लोक निर्माण विभाग के अधिकारी व कर्मचारी भी पहुंच गए।

जंजैहली/गोहर (ख्यालीराम): सराज क्षेत्र के अंतर्गत सुधराणी-थाटा सड़क मार्ग को जोड़ने वाला आलीगाड़ नाला पुल लोड टिप्पर के गुजरने के साथ ही धराशायी हो गया। सूचना मिलते ही स्थानीय ग्रामीण राहत कार्य में जुट गए, वहीं घटनास्थल पर लोक निर्माण विभाग के अधिकारी व कर्मचारी भी पहुंच गए। हादसे में टिप्पर चालक भी घायल हो गया है। जानकारी के अनुसार शनिवार को 12 बजे के करीब बजरी से लदा एक टिप्पर पुल को पार कर रहा था। जैसे ही टिप्पर पुल के आधे हिस्से में पहुंचा तो पुल टूटकर धराशायी हो गया, जिससे बजरी से भरा टिप्पर पुल के साथ नाले में जा गिरा।

ऊंचाई अधिक होती तो हो सकता था बड़ा हादसा
गनीमत यह रही कि पुल की ऊंचाई ज्यादा न होने के कारण कोई जानी नुक्सान नहीं हुआ अन्यथा यहां बड़ा हादसा हो सकता था। हालांकि टिप्पर चालक को मामूली चोटें आई हैं। पुल के टूटने और टिप्पर के गिरते ही आसपास से गुजर रहे लोग घटनास्थल पर पहुंचे और चालक को सुरक्षित बाहर निकाल लिया। स्थानीय ग्रामीणों का कहना है कि उक्त पुल करीब 7 साल पहले धार से गिरीं चट्टानों के कारण काफी हद तक कमजोर हो गया था लेकिन सरकार और प्रशासन ने समय रहते इस ओर ध्यान नहीं दिया। 

विभाग ने लगाया था चेतावनी बोर्ड
हालांकि पुल पर से अधिक वजन को न ले जाने के लिए विभाग की ओर से चेतावनी दे दी गई थी। ग्रामीणों का कहना है विभागीय चेतावनी के बावजूद यहां कुछ ठेकेदार पुल से ट्राले में एलएनटी मशीनें व रेत-बजरी से लोड टिप्पर आदि ले जाते हैं। पुल के क्षतिग्रस्त होने के बाद सड़क मार्ग से गाड़ियों और राहगीरों की आवाजाही पूरी तरह ठप्प हो गई है। 

क्या कहते हैं पीडब्ल्यूडी के अधिकारी 
अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग थालॉट सुरेश कौशल ने बताया कि उक्त नाले पर यह पुल 1967-68 के दौरान बनाया गया था। उस समय इसके निर्माण पर लगभग 30 से 35 लाख रुपए की लागत आई थी। उन्होंने कहा कि स्थिति से निपटने के लिए छोटी गाडिय़ों की आवाजाही को लेकर तुरंत प्रभाव से विकल्प तैयार करने के आदेश जारी कर दिए गए हैं जबकि भारी वाहनों के लिए कुछ दिन सड़क मार्ग अवरुद्ध रहेगा। 3-4 दिन के भीतर स्पॉट पर नया वैली ब्रिज तैयार करने के प्रयास किए जा रहे हैं। जो हैवी मशीनरी के भार को सहन करने की क्षमता रखेगा। 

क्या बोले एसडीएम बालीचौकी 
एसडीएम बालीचौकी सिद्धार्थ आचार्य ने बताया कि आलीगाड़ नाले पर बना लोहे का पुल क्षतिग्रस्त हुआ है, जहां लोड टिप्पर भी नीचे लुढ़क गया है। तहसीलदार बालीचौकी मौके पर रवाना हो गए हैं। लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श किया जा रहा है, ताकि सड़क मार्ग जल्द बहाल किया जा सके। चालक को आंशिक चोटें आई हैं, जिसे प्राथमिक उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया है।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

Match will be start at 01 Jul,2022 04:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!