बस स्टैंड में बने रेन शैल्टर से आ रही थी बदबू, जांच करने पर उड़े लोगों के होश

  • बस स्टैंड में बने रेन शैल्टर से आ रही थी बदबू, जांच करने पर उड़े लोगों के होश
You Are HereHimachal Pradesh
Thursday, October 12, 2017-8:52 PM

घुमारवीं: मुख्य बस स्टैंड घुमारवीं में बने रेन शैल्टर से लोगों को कुछ बदबू आने का एहसास हुआ। इस दौरान जब जांच की गई तो रेन शैल्टर के ऊपर बुजुर्ग व्यक्ति का शव देखकर लोगों के होश उड़ गए। इसके बाद पुलिस थाना घुमारवीं को सूचित किया गया जिस पर घुमारवीं पुलिस के ए.एस.आई. प्यारे लाल अपनी टीम सहित बस अड्डा पर पहुंचे और शव को कब्जे में ले लिया। जानकारी के अनुसार मृतक की आयु लगभग 65 वर्ष है तथा उसकी लंबाई 5 फुट 2 इंच है। मृतक ने खाकी रंग की कमीज पहन रखी है तथा उसका शरीर बहुत ही कमजोर था। पुलिस ने शव को कब्जे लेने के बाद सिविल अस्पताल घुमारवीं पहुंचाया। 

बस अड्डे पर ही बना ली थी पनाह
जानकारी के अनुसार यह व्यक्ति कुछ समय पूर्व एक व्यवसायी के घर पर काम भी करता था लेकिन अस्वस्थ होने के चलते वहां से काम छोड़ कर चला गया था। इस व्यक्ति ने बस अड्डा पर ही अपनी पनाह बना ली थी। पता चला है कि यह व्यक्ति होटलों में खाना भी खा लेता था और थोड़ा बहुत काम भी कर लेता था। यह भी जानकारी मिली है कि यह व्यक्ति कभी-कभार शराब भी पी लेता था लेकिन यह किसी भी व्यक्ति को मालूम नहीं है कि आखिर इसकी पहचान क्या थी क्योंकि इस व्यक्ति को कभी भी किसी बाहरी व्यक्ति के साथ घूमते व रहते हुए नहीं देखा गया था। 

पंजीकरण हुआ होता तो न होती ऐसी हालत
यहां पर यह बताना आवश्यक है कि पुलिस समय-समय पर लोगों को आगाह करती रहती है कि बाहरी व्यक्तियों की पहचान बताकर संबंधित पुलिस थानों में पंजीकरण अवश्य करवाएं लेकिन कोई भी व्यक्ति इन बाहरी लोगों के पंजीकरण को कदम नहीं उठाता। यदि यह पंजीकरण का कार्य हुआ होता तो आज इस व्यक्ति की पहचान हो सकती थी और इसे अपने परिजनों के हाथों का अंतिम संस्कार भी प्राप्त हो सकता था। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव गृह में रखवा दिया है। इस संदर्भ में डी.एस.पी. घुमारवीं राजेश कुमार ने बताया कि शव की पहचान नहीं हो पाई है। शव को निर्धारित अवधि तक रखा जाएगा। उसके उपरांत उसका अंतिम संस्कार करवा दिया जाएगा।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!