जानलेवा हुआ ठंड में अंगीठी जलाना, बेमौत मारे गए 5

  • जानलेवा हुआ ठंड में अंगीठी जलाना, बेमौत मारे गए 5
You Are HereHimachal Pradesh
Wednesday, January 11, 2017-3:23 PM

शिमला: राजधानी में मंगलवार देर शाम पश्चिम बंगाल से संबंध रखने वाले 5 प्रवासी मजदूरों की दम घुटने से मौत हो गई। यह दर्दनाक हादसा चायली के साथ लगते शडोग नामक गांव में सामने आया। देर शाम तक मृतकों में शामिल 5 में से 3 ही व्यक्तियों की शिनाख्त हो पाई थी, जिनमें देवेन, सपन और मुन्ना शामिल बताए गए हैं। पुलिस ने सभी शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए आई.जी.एम.सी. भेज दिए हैं। हादसे के शिकार हुए सभी मजदूर कारपेंटर का काम करते थे। सामने आया है कि हादसे का शिकार हुए मजदूर इन दिनों शडोग गांव निवासी डा. मंजीत के घर में कारपेंटर का काम कर रहे थे।

यह मानी जा रही हादसे की वजह 
प्रारंभिक जांच में पाया गया है कि मजदूरों ने ठंड से बचने के लिए कमरे में ही अंगीठी जलाई थी, ऐसे में अंगीठी के जलने से उत्सर्जित कार्बन मोनोऑक्साइड की वजह से कमरे में मौजूद पांचों मजदूरों की मौत हो गई। उक्त मामले की सूचना भवन मालिक डा. मंजीत ने पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर आगामी जांच शुरू कर दी है। पुलिस मृतकों के परिजनों से संपर्क कर रही है। एस.पी. जिला शिमला डी.डब्ल्यू. नेगी ने बताया कि सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर मामले की जांच की जा रही है। 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !