चंबा में वो चिल्लाए, लोग न होते तो मार डालते जंगली भालू

  • चंबा में वो चिल्लाए, लोग न होते तो मार डालते जंगली भालू
You Are HereHimachal Pradesh
Tuesday, November 14, 2017-7:15 PM

चंबा: जिला की मैहला पंचायत के चन्हौता गांव में आज 3 भालुओं ने रास्ते से गुजर रहे चाचा-भतीजे पर हमला करके लहूलुहान कर दिया। जैसे ही लोगों को उनके चिल्लाने की आवाज सुनाई थी लोग तुरंत उन्हें बचाने के लिए पहुंच गए। भालुओं ने दोनों को गंभीर रूप से घायल कर दिया है। इस घटना के बाद पूरे इलाके में दहशत बरकरार है। लोगों ने भालुओं को भगाकर चाचा और भतीजे को मेडिकल कॉलेज चंबा में भर्ती करवा दिया है जहां उनका उपचार चल रहा है। पवन पुत्र सराफी और सुंका राम पुत्र शेखू वासी चन्हौता सोमवार रात को रिश्तेदार के घर से अपने घर आ रहे थे कि अचानक तीन भालू उन पर झपट पड़े।
PunjabKesari
 गांव के पास किया हमला
पीड़ितों ने बताया कि जैसे ही वह गांव के पास पहुंचे तीन भालुओं ने उन पर हमला कर दिया। उनका कहना है कि भालुओं को देखकर वे वहां से भागे लेकिन भालुओं के हमले से बच नहीं पाए। जैसे ही हमारी चीखें लोगों को सुनाई दी लोग बचाने के लिए आए।
PunjabKesari
लोगों ने बचाई जान
चिल्लाने की आवाज सुनकर लोग घटना स्थल पर पहुंच गए और डंडों के जोर से भालुओं को वहां से भगा दिया। इसके बाद ग्रामीणों ने घायलों को चंबा मेडिकल कॉलेज पहुंचाया। भालुओं ने चाचा और भतीजे के सिर और टांगों पर गंभीर चोटें पहुंचाई हैं। उन्हें बचाने के लिए दोनों का ऑपरेशन किया गया है। 

दिलाई जाए भालुओं से निजात 
यहां के वासियों चैन सिंह, रूप लाल, हंसराज, रवि कुमार, जितेंद्र, रूपलाल, कमल कुमार, सुरेंद्र, जितेंद्र, अरविंद और भानू प्रताप ने का कहना है कि यह भालू अकसर यहां पर दिखाई देते हैं। इससे इलाके में दहशत का माहौल बरकरार है। इन्होंने प्रशासन से जंगली जानवरों के हमलों से निजात दिलाने की मांग की है।

सिर और टांगों पर गहरी चोटें
चिकित्सा अधीक्षक डॉ. विनोद शर्मा ने बताया कि घायल चाचा भतीजे का उपचार चंबा मेडिकल कॉलेज में जारी है। उनके सिर और टांगों में गहरी चोटें हैं। इसका उपचार पूरा होने के बाद ही इन्हें डिस्चार्ज किया जाएगा।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!