ठियोग में गुड़िया न्याय मंच का हल्ला बोल, कहा-खुले घूम रहे गुड़िया के कातिल

  • ठियोग में गुड़िया न्याय मंच का हल्ला बोल, कहा-खुले घूम रहे गुड़िया के कातिल
You Are HereHimachal Pradesh
Thursday, August 31, 2017-8:38 PM

ठियोग: कोटखाई गुड़िया मामले में आई.जी. व डी.एस.पी. सहित 8 पुलिस कर्मियों की गिरफ्तारी के बाद वीरवार को ठियोग में गुड़िया न्याय मंच के कार्यकर्ताओं ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर हल्ला बोला। इस दौरान गुड़िया न्याय मंच के कार्यकर्ता सुबह करीब 12 बजे ठियोग आलू मैदान के समीप एकत्र हुए और रैली की शकल में ठियोग बाजार होते हुए स्थानीय पुलिस थाना के समीप पहुंचे। वहां पर कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी व धरना-प्रदर्शन किया और करीब साढ़े 12 से लेकर डेढ़ बजे तक चक्का जाम रखा। हालांकि पुलिस द्वारा धरना-प्रदर्शन के मद्देनजर पुख्ता प्रबंध किए गए थे और काफी संख्या में अतिरिक्त पुलिस बल भी ठियोग में तैनात किया गया था। 

पुलिस की कार्यप्रणाली से हुआ जनता का मोहभंग
इस दौरान गुडिय़ा न्याय मंच के संयोजक कपिल भारद्वाज ने कहा कि प्रदेश में पुलिस की कार्यप्रणाली से जनता का मोहभंग हो गया है। प्रदेश में वर्तमान डी.जी.पी. के कार्यकाल में जंगलराज बन चुका है और पुलिस कस्टडी में सूरज की हत्या हुई है। उन्होंने कहा कि गुडिय़ा के असली कातिल अभी भी खुले घूम रहे हैं। इस दौरान पूर्व विधायक एवं माकपा नेता राकेश सिंघा ने कहा कि सारे प्रकरण में पुलिस की कार्यप्रणाली संदेह के घेरे में रही है और सी.बी.आई. द्वारा पुलिस के 8 अधिकारियों की गिरफ्तारी से साफ प्रतीत होता है कि कहीं न कहीं पुलिस ने सारे मामले की दिशा बदलने तथा साक्ष्य मिटाने की साजिश रची है जिसमें सरकार भी राजनीति कर रही है। उन्होंने मांग की है कि सी.बी.आई. की जांच की रफ्तार तेज होनी चाहिए।

पुलिस कर्मियों ने करवाई सूरज की हत्या
उन्होंने कहा कि सी.बी.आई. जांच से साफ  हो गया है कि पुलिस कस्टडी में सूरज की हत्या पुलिस कर्मियों द्वारा करवाई गई है और ऐसे में डी.जी.पी. सोमेश गोयल को बर्खास्त कर देना चाहिए। उन्होंने मांग की है कि सारे प्रकरण के मद्देनजर प्रदेश पुलिस डी.जी.पी. को बर्खास्त किया जाए। इस दौरान धरना-प्रदर्शन में किसान सभा ठियोग इकाई सचिव संदीप सोनू, सुरेश वर्मा, महेंद्र वर्मा व बालकृष्ण बाली सहित कई अन्य पदाधिकारी एवं कार्यकत्र्ता मौजूद रहे। 

4 के विरुद्ध मामला दर्ज
वहीं ठियोग थाने के सामने चक्का जाम तथा धरना-प्रदर्शन को लेकर पुलिस द्वारा 4 लोगों के खिलाफ  मामला दर्ज किया गया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार राकेश सिंघा, कपिल भारद्वाज, संदीप वर्मा, सुरेश वर्मा की अगुवाई में करीब 100 से 120 लोगों द्वारा धरना-प्रदर्शन किया गया और और चक्का जाम भी किया गया जिसके चलते पुलिस द्वारा मामला दर्ज कर आगामी छानबीन की जा रही है। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!