हिमाचल में मेडिकल काॅलेजों के विशेषज्ञ डाॅक्टर सामूहिक अवकाश पर, मरीजों की बढ़ी परेशानी

Edited By Vijay, Updated: 04 Oct, 2022 11:18 PM

specialist doctors of medical colleges in himachal on mass leave

हिमाचल प्रदेश के मैडीकल कालेजों के विशेषज्ञ डाॅक्टर मंगलवार को सामूहिक अवकाश पर रहे, जिस कारण मैडीकल कालेजों में स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित हुईं, जिससे मरीजों की परेशानी बढ़ गई है। मंगलवार सुबह से डाक्टर न तो ओपीडी में बैठे और न ही मरीजों के ऑप्रेशन...

शिमला (ब्यूरो): हिमाचल प्रदेश के मैडीकल कालेजों के विशेषज्ञ डाॅक्टर मंगलवार को सामूहिक अवकाश पर रहे, जिस कारण मैडीकल कालेजों में स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित हुईं, जिससे मरीजों की परेशानी बढ़ गई है। मंगलवार सुबह से डाक्टर न तो ओपीडी में बैठे और न ही मरीजों के ऑप्रेशन हुए। इस दौरान डाक्टर्स ने सिर्फ आपातकालीन सेवाएं दीं। डाॅक्टर फील्ड में तैनात विशेषज्ञ डाॅक्टरों की तर्ज पर अकादमिक भत्ते की मांग कर रहे हैं। सरकार की ओर से मांग न मानने पर डाक्टरों ने सामूहिक अवकाश पर जाने का फैसला लिया है। प्रदेश में आईजीएमसी शिमला, नाहन, टांडा, नेरचौक, चम्बा और हमीरपुर में मेडिकल काॅलेज हैं। 

स्टेट मेडिकल और डैंटल काॅलेज अध्यापन एसोसिएशन (सेमडिकोट) के अध्यक्ष डाॅ. राजेश सूद ने कहा कि हिमाचल में मेडिकल काॅलेजों में तैनात विशेषज्ञ डाॅक्टरों की संख्या 500 से ज्यादा है। इस दौरान प्रदेश के सबसे बड़े स्वास्थ्य संस्थान इंदिरा गांधी मेडिकल काॅलेज (आईजीएमसी) में इलाज करवाने आने वाले मरीजों को वरिष्ठ डाॅक्टरों की सेवाएं नहीं मिलीं। सबसे अधिक परेशानी उन मरीजों को हुई, जिनके ऑप्रेशन होने थे। आईजीएमसी के 250 वरिष्ठ डाॅक्टर सामूहिक अवकाश पर हैं। वरिष्ठ डाॅक्टरों के सामूहिक अवकाश पर जाने से यहां रूटीन के करीब 55 ऑप्रेेशन नहीं हुए। दूरदराज के क्षेत्रों से हर्निया, गाल ब्लैडर, हाथ, बाजू, टांग, आंखों व ईएनटी संबंधी बीमारियों के ऑप्रेशन करवाने आने वाले मरीजों को परेशानी झेलनी पड़ी। 

इंदिरा गांधी मेडिकल काॅलेज एवं अस्पताल (आईजीएमसी) में रोजाना 3,000 से अधिक मरीजों की ओपीडी होती है। इनमें कंसल्टैंट डाक्टरों के साथ सीनियर और जूनियर डाक्टर काम संभालते हैं। मंगलवार को सीनियर और जूनियर डाॅक्टरों ने ही यह काम संभाला। ओपीडी में चैकअप के बाद हर रोज करीब 100 से अधिक मरीज दाखिल किए जाते हैं। आईजीएमसी आरडीए (रैजीडैंट डाॅक्टर्ज एसोसिएशन) के अध्यक्ष डाॅ. मनोज ने कहा कि यदि सरकार ने इस मांग को पूरा नहीं किया तो आरडीए भी सेमडिकोट के पक्ष में हर रोज 2 से 3 घंटे की हड़ताल शुरू कर देगी।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

Related Story

Trending Topics

Pakistan

137/8

20.0

England

138/5

19.0

England win by 5 wickets

RR 6.85
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!