कुदरत का कहर : मुल्थान के कुडी नाला में बादल फटा, 20 बीघा भूमि पर फसलें तबाह

Edited By Vijay, Updated: 01 Aug, 2022 01:05 AM

cloud burst in kangra

कांगड़ा जिले में शनिवार व रविवार को हुई बारिश से नदी-नाले उफान पर रहे। रविवार सुबह धर्मशाला रेंज में 137.2 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। उपमंडल बैजनाथ के अंतर्गत मुल्थान तहसील के अंतिम छोर भुजलिंग गांव के कुडी नाला में बादल फटने से गांव का पैदल मार्ग...

धर्मशाला/पालमपुर/पपरोला (टीम): कांगड़ा जिले में शनिवार व रविवार को हुई बारिश से नदी-नाले उफान पर रहे। रविवार सुबह धर्मशाला रेंज में 137.2 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। उपमंडल बैजनाथ के अंतर्गत मुल्थान तहसील के अंतिम छोर भुजलिंग गांव के कुडी नाला में बादल फटने से गांव का पैदल मार्ग तहस-नहस हो गया। इसके अलावा किसानों द्वारा 20 बीघा भूमि पर उगाई फसलें तबाह हो गईं। पंचायत प्रधान गुड्डी देवी और उपप्रधान सुनील कुमार ने सरकार व प्रशासन से राहत की मांग की है। तहसीलदार मुल्थान पीसी कौंडल ने कहा कि भुजलिंग में बादल फटने की सूचना मिली है। इसमें जानी नुक्सान नहीं हुआ है। संबंधित पटवारी व कानूनगो को मौका करने के निर्देश दिए गए हैं। घटना की सूचना बैजनाथ प्रशासन को दे दी गई है। उधर, भारी बारिश के कारण बैजनाथ के उतराला-बिनवा-फटाहर रोड पर बिनवा पावर हाऊस कार्यालय के पास एक पुलिया गिर गई। स्थानीय विधायक मुल्क राज प्रेमी ने नुक्सान का जायजा लिया।
PunjabKesari

ड्रेनेज सिस्टम लॉक होने से जलमग्न हुआ पुल
पठानकोट-मंडी राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर परौर में न्यूगल खड्ड पर बना पुल जलमग्न हो गया। पुल पर वाटर ड्रेनेज सिस्टम लॉक होने से पानी पुल पर ही जमा होता रहा। वहीं पालमपुर-धर्मशाला वाया नगरी मार्ग पर ङ्क्षचबलहार के समीप कूहल का पानी ओवरफ्लो होकर सड़क पर बहता रहा, जिस कारण सड़क जलमग्न हो गई। यही स्थिति पालमपुर-बैजनाथ सड़क मार्ग पर भी बनी। जीवन बीमा निगम के पुराने कार्यालय तथा एसएम कन्वैंशन सैंटर के समीप सड़क पर पानी जमा हो गया। सोशल मीडिया पर फोटो वायरल होने पर हरकत में आए विभाग ने सड़क मार्गों से पानी हटाने का प्रयास किया। परौर पुल पर लोक निर्माण विभाग का दस्ता जेसीबी सहित पहुंचा तथा ड्रेनेज सिस्टम साफ कर पानी की निकासी सुनिश्चित की।
PunjabKesari

गज खड्ड के बहाव में ट्रैक्टर बहा
भारी बारिश के चलते गज खड्ड के तेज बहाव में रविवार सुबह एक ट्रैक्टर व ट्रॉली बह गई। गनीमत रही कि ट्रैक्टर पर सवार चालक व एक अन्य ने समय रहते छलांग लगाकर अपनी जान बचा ली। ट्रैक्टर को बाहर निकालने के लिए जेसीबी मंगवाई गई लेकिन पानी के तेज बहाव के कारण जेसीबी पानी के अंदर नहीं जा सकी। उधर, शाहपुर हलके के अंतर्गत गांव राजोल की गज खड्ड में पानी की पाइपें बह गईं, जिससे पेयजल आपूर्ति ठप्प हो गई। इसके अलावा कूहलों को भी नुक्सान पहुंचा है। 
PunjabKesari

भूस्खलन से 2 घंटे बंद रहा एनएच-154
वहीं नूरपुर के तहत राष्ट्रीय राजमार्ग-154 पर रविवार दोपहर बाद ढक्की क्षेत्र में भूस्खलन से मार्ग बाधित हो गया। गनीमत रही कि उस समय सड़क पर कोई वाहन नहीं गुजर रहा था। लगभग 2 घंटे तक मार्ग बाधित रहा, जिससे गाड़ियों लंबी कतारें लग गईं। घटना की सूचना मिलते ही एसडीएम अनिल भारद्वाज ने मौके पर पहुंचकर नैशनल हाईवे को ट्रैफिक बहाल करने के आदेश दिए। कड़ी मशक्कत के बाद नैशनल हाईवे को बहाल कर दिया गया। 

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!