सुशील मोदी का तीखा प्रहार- भ्रष्टाचार को संस्थागत करने वाले 10 लाख नौकरी का कर रहे वादा

Edited By Ramanjot, Updated: 03 Nov, 2020 08:22 AM

sushil modi targeted tejashwi yadav

बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने राष्ट्रीय जनता दल (राजद) एवं प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव के नौकरी देने के वादे को सु बोला। उन्होंने और कहा कि भ्रष्टाचार को संस्थागत करने वाले आज 10 लाख नौकरी देने का वादा कर रहे हैं।

पटनाः बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने राष्ट्रीय जनता दल (राजद) एवं प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव के नौकरी देने के वादे को सु बोला। उन्होंने और कहा कि भ्रष्टाचार को संस्थागत करने वाले आज 10 लाख नौकरी देने का वादा कर रहे हैं।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी ने सोमवार को अपने ट्वीट में तेजस्वी प्रसाद यादव को ‘जंगलराज का युवराज' बताया और उनसे पूछा, ‘‘क्या यह सही नहीं है कि पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के कार्यकाल में बिहार लोक सेवा आयोग के दो अध्यक्ष डॉ. रजिया तबस्सुम, डॉ. राम सिंहासन सिंह और आयोग के दो सदस्य डॉ. देवनंदन शर्मा, डॉ. शिवबालक चौधरी को निगरानी जांच में भ्रष्टाचार का दोषी पाए जाने के बाद जेल जाना पड़ा था। क्या पूरा नियुक्ति तंत्र कदम-कदम पर घूसखोरी के दलदल में धंसा हुआ नहीं था।''

सुशील मोदी ने पूछा कि क्या यह सही नहीं कि वर्ष 2002 में बिहार राज्य विश्वविद्यालय सेवा आयोग के तत्कालीन अध्यक्ष देवनंदन सिंह को व्याख्याता बहाली के दौरान साक्षात्कार में अंकों की हेराफेरी करने का दोषी पाया गया और उन्हें जेल जाना पड़ा था। उन्होंने कहा कि क्या लालू राज में पढ़े-लिखे बिहारी युवाओं की नौकरी का हक नहीं छीना गया? भाजपा नेता ने सवालिया लहजे में कहा कि वर्ष 1997 में राबड़ी सरकार ने डॉ. प्रो. लक्ष्मी राय जैसे व्यक्ति को बिहार लोकसेवा आयोग का अध्यक्ष क्यों बनाया, जो मेधा घोटाला का अभियुक्त था और जिसे अध्यक्ष पद पर रहते हुए जेल जाना पड़ा। उन्होंने कहा कि राजद सरकार ने नौकरी देने के नाम पर भी भ्रष्टाचार को संस्थागत बनाया।

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!