ऐतिहासिक शिव मंदिर बैजनाथ में आज होगी अखरोटों की बारिश

You Are HereKangra
Sunday, November 13, 2016-1:09 PM

बैजनाथ (कमल गुप्ता): ऐतिहासिक शिव मंदिर बैजनाथ में रविवार को अखरोटों की बारिश होगी। बैकुंठ चौदस पर हर साल मंदिर में अखरोटों की बारिश होती है तथा सैकड़ों श्रद्धालु अखरोटों को प्रसाद के रूप में ग्रहण करते हैं।


जानकारी के मुताबिक मंदिर के पुजारी सुरेंद्र आचार्य के अनुसार, पुराने समय में शंखासुर राक्षस के अत्याचारों से लोगों में ही नहीं बल्कि देवताओं में भी हाहाकार मचने लगा था। राक्षस ने वेद मंत्रों को भी चुराने की कोशिश की तो सभी देवता इकट्ठे होकर भगवान विष्णु के पास गए व इसका उपाय निकालकर राक्षस को मारने की प्रार्थना की। देवताओं की प्रार्थना के बाद विष्णु भगवान ने मत्स्य का रूप धारणकर राक्षस को मार गिराया था। माना जाता है कि इसी दिन विष्णु भगवान बैकुंठ लौट आए तथा इसी को लेकर हीरों की बारिश की गई थी। 


शिव मंदिर में भी इसी को लेकर बैकुंठ चौदस पर अखरोटों की बारिश की जाती है। इसके अलावा इस दिन के बाद शुभ दिनों की भी शुरुआत हो जाती है। अमित कपूर ने बताया कि आज रात साढ़े 7 बजे शिव मंदिर बैजनाथ में हर वर्ष की भांति अखरोटों की बारिश होगी, बैकुंठ चौदस के अवसर पर पुजारी द्वारा लगभग 6 हजार अखरोटों को मंदिर गुमंद से गिरा कर श्रद्धालु इकट्ठा करते है तथा प्रसाद के रूप ग्रहण करते है। 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You