Watch Video: धूमल बोले, हिमाचल चुनाव में नोटबंदी का होगा 'ये' असर

You Are HereMandi
Monday, November 14, 2016-1:53 PM

सुंदरनगर (नितेश सैनी): मोदी सरकार द्वारा 500 और 1000 के नोट बंद करने के बाद देश की आम जनता सहित पैसे के बल पर चुनाव जितने वाली राजनीतिक पार्टियों को बड़ा झटका लगा है। वहीं हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व विपक्ष के नेता प्रेम कुमार धूमल ने मंडी जिला के दौरे के दौरान बग्गी विश्राम गृह में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि प्रदेश भारतीय जनता पार्टी मोदी जी के 500 और 100 के नोटों के बंद करने के फैसले का स्वागत करती है।


धूमल ने एक सवाल पर बोला कि काले धन के बलबूते पर चुनाव जितने वाले धना सेठ चुनाव नहीं जीत पाएंगे और नोटों के बदलने से भारत का व्यापार शुद्ध होने से बैंकिंग सिस्टम में भी सुधार होगा। वहीं उन्होंने कहा कि 500 और 1000 के नोट बदलने से राजनीति भी शुद्ध हो जाएगी और चुनाव में काले धन का प्रभाव भी बिल्कुल समाप्त हो जाएगा। धूमल ने कहा कि प्रधानमंत्री के इस निर्णय से आतंकवाद और ड्रग माफिया की बोलती बंद हो गई है। 8 नवम्बर की रात को प्रधानमंत्री के इस फैसले से देश में भारत की आर्थिकी साफ हुई है और बैंकिंग प्रणाली में सुधार हुआ है। इसके अलावा धूमल ने वीरभद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि प्रदेश सरकार का 4 वर्ष का कार्यकाल पूरी तरह असफल रहा है।


प्रदेश में भ्रष्टाचार, वन माफिया, खनन माफिया, शराब माफिया और भू-माफिया तथा ट्रांसफर माफिया का बोलबाला है। प्रदेश का हर वर्ग सरकार के कार्यकाल से दुखी है तथा स्कूलों में वर्दियां व बेरोजगारों को रोजगार नहीं मिल रहा है। कांग्रेस सरकार योग्यता को दरकिनार कर चोर दरवाजे से चहेते लोगों को नौकरियां दे रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि वीरभद्र सरकार से बुजुर्गों को पैंशन नहीं मिल रही है तथा किसानों को बीज व खाद नहीं मिल रहे हैं। उन्होंने कहा कि 2017 के विधानसभा चुनावों में भाजपा पूर्ण बहुमतों से सत्ता में आएगी। धूमल ने बग्गी में नाचन भाजपा कार्यकर्ताओं की बैठक भी ली और आगामी विधानसभा चुनावों की तैयारियों को टिप्स भी दिए।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You