Subscribe Now!

हिमाचल के राशनकार्डधारकों के लिए GoodNews, जानने के लिए पढ़ें खबर

  • हिमाचल के राशनकार्डधारकों के लिए GoodNews, जानने के लिए पढ़ें खबर
You Are HereHimachal Pradesh
Thursday, January 18, 2018-11:42 PM

शिमला: राज्य में राशनकार्ड के साथ अब 1 लाख रुपए का बीमा होगा। इसके लिए राशनकार्ड बनाने पर प्रत्येक वर्ष 12 रुपए प्रति सदस्य के हिसाब से शुल्क अदा करना होगा। सरकारी नौकरी करने वालों को छोड़ अन्य लोग इसके दायरे में आएंगे। इसमें 18 वर्ष से नीचे और 60 साल से ऊपर के व्यक्ति को बाहर रखे जाने का प्रस्ताव है। इसके लिए सरकार की तरफ से नियम एवं शर्तों को जल्द तय किया जाएगा। सरकार ने यह निर्णय इसलिए लिया है क्योंकि कई बार परिवार में किसी सदस्य के आकस्मिक निधन पर संकट की स्थिति पैदा हो जाती है। गरीब परिवार को इस स्थिति में राहत की आवश्यकता होती है जिसे 1 लाख का बीमा कवर मिलेगा। 

जन-धन योजना वाले खातधारकों को मिलेगा लाभ
यह बीमा कवर उन गरीब लोगों को भी मिलेगा जिन्होंने प्रधानमंत्री जन-धन योजना के तहत खातों को खोला है। बैंक में खाते खोलने पर भी बीमा का प्रावधान है। इस तरह राशनकार्ड और बैंक में खाते खोलने वाले व्यक्ति को दोहरा बीमा कवर मिलेगा जिसमें 1 लाख रुपए राशनकार्ड बनाने और 1 लाख बैंक में खाता खोलने की स्थिति में मिल सकेंगे। राज्य सरकार ने राशनकार्ड के साथ बीमा करवाने की योजना को लेकर कसरत शुरू कर दी है और आगामी 100 दिन के भीतर इसको लेकर अंतिम निर्णय लिए जाने की संभावना है। 

हिमाचल में 18,18,399 राशनकार्ड धारक 
बता दें कि राज्य में करीब 18,18,399 राशनकार्ड धारक हैं। इनको डिजिटल करने का क्रम जारी है। साथ ही यदि कोई उपभोक्ता फर्जी तरीके से राशनकार्ड बनाता है तो इससे उसका पता चल सकेगा। इसी तरह राशनकार्ड अब बैंक के ए.टी.एम. कार्ड की तरह बनाया गया है जिसको आसानी से जेब में संभाल कर रखा जा सकता है। उल्लेखनीय है कि इससे पहले राज्य में 18,20,924 राशनकार्ड धारक थे लेकिन डिजिटल राशनकार्ड बनने पर यह संख्या घटकर करीब 18,18,399 रह गई है। इससे स्पष्ट है कि राज्य में राशनकार्ड के डिजिटल होने से इसकी संख्या बढऩे की बजाय घटी है। 

2,82,278 बी.पी.एल. परिवार चयनित 
राज्य में इस समय करीब 2,82,278 बी.पी.एल. परिवार चयनित हैं। ऐसे परिवारों को भी अब बीमा कवर की सुविधा मिल सकेगी।  राज्य में 1 पंचायत में 10 परिवारों को बी.पी.एल. का दर्जा दिए जाने का प्रावधान है और केंद्र सरकार के निर्देश पर 3 बार इसकी समीक्षा की गई है। प्रधानमंत्री जन-धन योजना के तहत राज्य में बीते साल तक 10 लाख से अधिक खाते खोले गए थे। यानि राज्य में 10 लाख से अधिक ऐसे लोग हैं जो अधिक गरीब हैं। ऐसे परिवारों के लिए भी राशनकार्ड के बीमा की योजना राहत देने वाली है।

पूरी की जा रही हैं औपचारिकताएं : कंवर
ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज मंत्री वीरेंद्र कंवर का कहना है कि राशनकार्ड के साथ 1 लाख रुपए का बीमा करवाने संबंधी योजना बनाने बारे सरकार विचार कर रही है। इसके लिए विभागीय स्तर पर सभी औपचारिकताओं को पूरा किया जा रहा है। इससे गरीब परिवार को किसी व्यक्ति के आकस्मिक निधन पर राहत मिल सकेगी।


अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन