ट्रेन में सफर करने वाले लोगों को रेलवे विभाग ने दी खुशखबरी

You Are HereNational
Thursday, September 22, 2016-3:06 PM

पपरोला: ट्रेन में सफर करने वाले आम लोगों को रेलवे विभाग ने खुशखबरी दी है। बता दें कि गत दिवस से पठानकोट-जोगिंद्रनगर रेल ट्रैक पर चलने वाली सभी 14 अप व डाऊन ट्रेनें शुरू हो गई हैं। रेलवे विभाग फिरोजपुर की ओर से पठानकोट व प्रदेश के बीच चलने वाली सभी नैरोगेज ट्रेनों को शुरू करने बाबत दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। विगत रहे कि पहाड़ी क्षेत्रों में होने वाले भूस्खलन के खतरे को देखते हुए रेलवे विभाग की प्लानिंग के बाद गत 2 माह पूर्व कई ट्रेनों को बंद करने के दिशा-निर्देश दिए थे।


इसके बाद डिवीजनल रेलवे मैनेजर फिरोजपुर की तरफ से जारी दिशा-निर्देशों के तहत रेलवे विभाग ने पठानकोट से प्रदेश की ओर गत जुलाई माह 14 में से 6 ट्रेनों को बंद कर दिया था वहीं 2 ट्रेनों को सुरक्षित स्टेशनों तक सीमित रखा गया था, जिसके बाद लोगों को बसों में महंगे दामों पर किराया खर्च कर सफर करना पड़ता था। रेल में सफर करने वालों की तादाद ज्यादा रहती है, जिसके तहत पपरोला से पठानकोट तक पहुंचने के लिए यात्री को केवल 30 रुपए देने पड़ते हैं जबकि बस में यही किराया 190 रुपए तक पहुंचता है। 


ये चल रही हैं ट्रेनें
रेलवे विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक ट्रैक पर चलने वाली 14 रेलगाडिय़ों में बैजनाथ/पपरोला से सुबह 4 बजे, 7.15 बजे, 10.45 बजे, दोपहर 2.10 बजे, शाम 4 बजे व 5.35 बजे रेलगाड़ी पठानकोट की ओर रवाना हो रही है जबकि शाम 6.05 बजे रेल पपरोला से जोगिंद्रनगर के लिए शुरू हुई है। इसके अलावा पठानकोट से भी बैजनाथ/पपरोला के लिए सुबह 9 बजे, 11 बजे, दोपहर 1.50 बजे, शाम 5.20 बजे, रात 8.30 बजे व 10.30 बजे गाड़ी पहुंच रही है। 


ट्रैक को ब्रॉडगेज करने में लगेगा समय
जोगिंद्रनगर में गत सप्ताह रेलवे विभाग के जी.एम. ए.के. पूतिया ने कहा था कि पठानकोट-जोगिंद्रनगर ट्रैक को ब्रॉडगेज करने के लिए सर्वे चला हुआ है, जिसमें लगभग 3 साल का समय लगेगा। उन्होंने कहा था कि टै्रक को ब्रॉडगेज नहीं किया जा सकता है लेकिन वर्तमान पठानकोट-जोगिंद्रनगर रेल टै्रक का हैरीटेज का दर्जा बरकरार रखा हुआ है। इसके अलावा रेलवे विभाग के वित्त आयुक्त संजय मुखर्जी ने भी अपने दौरे के दौरान इस टै्रक को रेलवे विभाग के लिए फायदे का सौदा नहीं बताया था लेकिन अंग्रेजों के समय से चल रहे टै्रक को लोगों की सुविधा के लिए चलाने की बात कही थी जबकि कांगड़ा-चम्बा के सांसद शांता कुमार व सांसद रामस्वरूप शर्मा पठानकोट-जोगिंद्रनगर रेल ट्रैक को ब्रॉडगेज करने पर बल दे चुके हैं।   

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!