Subscribe Now!

युवती की हत्या मामला में सड़कों पर उतरी महिलाएं

  • युवती की हत्या मामला में सड़कों पर उतरी महिलाएं
You Are HereHimachal Pradesh
Wednesday, February 14, 2018-12:31 AM

धर्मशाला: शाहपुर विधानसभा क्षेत्र की रहने वाली 20 वर्षीय युवती की हत्या पर रोष प्रकट करते हुए विभिन्न संस्थाओं की महिलाएं सड़क पर उतरने को मजबूर हो गई हैं। मंगलवार को विभिन्न संस्थाओं ने धर्मशाला में रैली निकालकर 20 वर्षीय युवती की हत्या पर रोष प्रकट किया। मंगलवार को कचहरी बस अड्डा में महिलाओं को संबोधित करते हुए जागोरी की निदेशिका आभा भैया ने बताया कि हिमाचल को देवभूमि के नाम से जाना जाता है लेकिन यहां पर महिलाएं कितनी सुरक्षित हैं यह किसी से छुपा नहीं है। उन्होंने बताया कि अगर समाज का हर आदमी इसी तरह से मूक बना रहा तो आने वाले समय में महिलाओं, लड़कियों का घर से बाहर निकलना असंभव हो जाएगा। 

जागरूक करने के बावजूद युवतियों की हत्या में बढ़ौतरी
उन्होंने बताया कि बढ़ती हिंसा, असमानता, भेदभाव व अत्याचारों को खत्म करने के लिए समय-समय पर महिलाओं व ऐसे पुरुष जो नारी वादी सोच रखते हैं तथा महिलाओं को समझते हैं उनके द्वारा महिला आंदोलन चलाए जा रहे हैं। इन्हीं आंदोलनों की शृंखला में 2013 में एक आंदोलन और जोड़ा गया जिसका नाम है उमड़ते सौ करोड़ अभियान। इस अभियान के साथ विश्व के 207 देश जुड़े हुए हैं। इस अभियान के दौरान लोगों को जागरूक करने के लिए कई तरह की गतिविधियां की जा रही हैं बावजूद इसके युवतियों की हत्या बढ़ती ही जा रही हैं। 

पुरुष रात को 6 बजे के बाद बाहर न निकले तो सुरक्षित होंगी महिलाएं
उन्होंने सभी पुरुष साथियों से भी अपील की कि इन अपराधों को रोकने के लिए उनकी भूमिका भी अहम हो सकती है क्योंकि पुरुष अगर रात को 6 बजे के बाद बाहर नहीं निकलेगा तो महिलाएं अपने आप सुरक्षित होंगी। इस अवसर पर निष्ठा, संभावना, एकल नारी मंच, महिला साहित्यकार, इन्नरव्हील व समुदाय की महिलाएं, राजकीय महाविद्यालय मटौर की प्रधानाचार्य रश्मी, नगर निगम की मेयर रजनी व्यास के अतिरिक्त अलग-अलग संस्थाओं से लगभग 250 महिला व पुरुषों ने भाग लिया।


अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन