अाखिर क्यों यहां लोग पानी खरीदने को हो रहे मजबूर

  • अाखिर क्यों यहां लोग पानी खरीदने को हो रहे मजबूर
You Are HereHimachal Pradesh
Friday, July 14, 2017-11:23 AM

सोलन: हिमाचल प्रदेश में पिछले काफी समय से सोलन शहर में पानी की राशनिंग की जा रही है व लोगों को 5-6 दिनों बाद पानी मिल रहा है। अब फिर से बुधवार को गिरि नदी में सिल्ट आने से पानी बहुत कम लिफ्ट हो पाया, जिससे पेयजल संकट और गहरा गया है। कई क्षेत्रों में 6 दिनों से पानी नहीं मिला है। सोलन शहर को गिरि पेयजल योजना और अश्विनी खड्ड पेयजल योजना से पानी की आपूर्ति की जाती है। सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग द्वारा पानी नप के टैंकों तक पहुंचाया जाता है, उसके बाद नप इसे शहर में वितरित करती है। बरसात के दिनों गिरि पेयजल योजना में बार-बार सिल्ट आने से समस्या बढ़ती जा रही है। बुधवार को भी बारिश से गिरि पेयजल योजना में गाद की मात्रा अधिक आने से पानी की आपूर्ति बाधित हुई। सोलन शहर को प्रतिदिन करीब 18 लाख गैलन पानी की जरूरत रहती है लेकिन पानी कम मिलने से शहरवासियों को 2 दिन छोड़कर पानी मिलता है। पानी की आपूर्ति जिस दिन कम होती है तो यह 2 दिनों का अंतर और अधिक बढ़ जाता है। सोलन के चंबाघाट, मालरोड, जवाहर पार्क, वार्ड-2, वार्ड-8 व ब्रूरी में पिछले 4-5 दिनों से पानी नहीं आया था। जवाहर पार्क, मालरोड व ब्रूरी में वीरवार को पानी दे दिया गया जबकि चंबाघाट व शहर के कई अन्य स्थानों पर वीरवार को भी पानी नहीं मिल पाया है, जिसके चलते लोगों को पीने के लिए बाजार से बंद बोतलों का पानी व अन्य जरूरतों के लिए टैंकर से पानी मंगवाना पड़ रहा है। 


क्या कहते हैं लोग 
शहरवासियों प्रेम कुमार, हंसराज, कृष्णा, राघवेंद्र, मनीश व राजन का कहना है कि पिछले लंबे समय से शहर में पानी चौथे दिन मिल रहा है। यही नहीं, बारिश होने या बिजली की समस्या आने पर उन्हें कई-कई दिनों तक पानी नहीं मिलता है। महीने में मुश्किल से 7-8 दिन ही पानी मिल पाता है। पानी न मिलने पर उन्हें बिल में कोई छूट नहीं दी जाती है। लोगों का कहना है कि बरसात में बारिश से सिल्ट आने, गर्मियों में बिजली व जलस्तर कम होने तथा सर्दियों में भी बिजली कटों के कारण पेयजल आपूर्ति बाधित हो जाती है, ऐसे में शहर को निर्बाध रूप से पानी कभी भी नहीं मिलता है।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!