वीरभद्र सरकार के ऋण लेने के निर्णय पर धूमल ने ली चुटकी, दिया यह बयान

  • वीरभद्र सरकार के ऋण लेने के निर्णय पर धूमल ने ली चुटकी, दिया यह बयान
You Are HereHimachal Pradesh
Sunday, September 24, 2017-2:04 PM

ऊना (अमित शर्मा): प्रदेश सरकार के 700 करोड़ ऋण लेने के निर्णय पर नेता प्रतिपक्ष प्रेम कुमार धूमल ने चुटकी ली है। धूमल ने कहा कि वीरभद्र सिंह ऋषि चार्वाक के अवतार हैं। उन्होंने ऊना में पत्रकार वार्ता को सम्बोधित किया। धूमल ने कहा कि भाजपा सिफारिश नहीं बल्कि जीत की संभावना वाले प्रत्याशियों को चुनाव मैदान में उतारेगी। वहीं उन्होंने कांग्रेस के कई मंत्री, विधायक और नेताओं के भाजपा में आने का भी दावा किया। उन्होंने कहा कि बिना टिकट की शर्त वालों को ही भाजपा में शामिल किया जाएगा। 


वीरभद्र ऋषि चार्वाक के अवतार से कम नहीं
ऊना में पत्रकार वार्ता को सम्बोधित करते हुए धूमल ने कहा कि ऐसा लग रहा है कि ऋण लेने के मामले में वीरभद्र ऋषि चार्वाक के अवतार से कम नहीं हैं। क्योंकि ऋषि चार्वाक का कथन था कि ऋण लेकर घी शकर पियो, अगला जन्म हो न हो। उन्होंने कहा कि ऐसे ऋणों पर कानूनी रास्ता निकालेंगे और जो गलत कर रहा है, उसकी जिम्मेवारी तय की जाएगी। धूमल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 3 अक्तूबर को बिलासपुर के दौरे पर आ रहे हैं। इस दौरान एम्स सहित अन्य शिलान्यास होंगे। जिससे प्रदेश के विकास को नए पंख लगेंगे। उन्होंने कहा कि इसी दिन प्रधानमंत्री बिलासपुर में ही जनसभा को संबोधित करेंगे। यह जनसभा एतिहासिक होगी। 


भाजपा के उम्मीदवार जल्द तय हों
उन्होंने कहा कि टिकट वितरण में केंद्रीय हाईकमान का निर्णय ही अंतिम होगा। भाजपा के उम्मीदवार जल्द तय हों, इसके लिए केंद्रीय व प्रदेश का नेतृत्व मिलकर काम करेगा। उन्होंने कहा कि इस बार अनेक सर्वे हो रहे हैं। धूमल ने कहा कि कांग्रेस के मंत्री, विधायक व कई नेता भाजपा नेतृत्व के संपर्क में चल रहे हैं। सभी को साफ कर दिया गया है कि जो भी भाजपा में आना चाहता है, वह प्रधानमंत्री के नेतृत्व, सरकार की नीतियां व भाजपा की विचारधारा से प्रभावित होकर बिना शर्त आए। किसी को भी टिकट का वायदा नहीं किया जाएगा और न ही टिकट की शर्त पर किसी को भाजपा में लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि कौन कब आएगा, अब समय आ गया है, जल्द ही पता चल जाएगा।      

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!