चुनावों को नजदीक आते देख वीरभद्र सरकार ने टैक्सी परमिटों को लेकर लिया बड़ा फैसला

  • चुनावों को नजदीक आते देख वीरभद्र सरकार ने टैक्सी परमिटों को लेकर लिया बड़ा फैसला
You Are HereHimachal Pradesh
Tuesday, September 26, 2017-1:26 PM

शिमला: विधानसभा चुनावों को नजदीक आते देख प्रदेश सरकार ने टैक्सी परमिटों को लेकर बड़ा फैसला लिया है। दरअसल सरकार ने टैक्सी परमिटों से रोक हटा दी है। करीब डेढ़ साल पहले ज्यादा गाड़ियां और पार्किंग की कमी के चलते सरकार ने नए परमिट देना बंद कर दिया था। अब बेरोजगारों और टैक्सी चालकों को खुश करने के लिए सरकार ने परमिट के लंबित आवेदनों को मंजूरी दे दी है। कुल्लू को सर्वाधिक 385, ऊना और बद्दी को सबसे कम 5 और 1 परमिट मिला है। वहीं परिवहन मंत्री जीएस बाली ने बताया कि प्रदेश में टैक्सी परमिट जारी किए गए हैं। इसमें 4 प्लस 1 और 6 प्लस 1 शामिल हैं। उन्होंने कहा कि लंबे समय से यह मामला लटका हुआ था। उल्लेखनीय है कि प्रदेश में 6 प्लस 1 के 103, 4 प्लस 1 के एक हजार से ज्यादा परमिट दिए गए हैं। कुछ टैक्सी चालकों को ऑल इंडिया जबकि अधिकतर चालकों को हिमाचल में ही टैक्सी चलाने का परमिट दिया गया है। 


जानिए किस जिले को कितने परमिट
4 प्लस 1
चंबा- 76, कुल्लू- 357, बिलासपुर- 28, कांगड़ा- 134, शिमला- 205, सोलन- 55, ऊना- 5,  हमीरपुर- 28, मंडी- 108 
6 प्लस 1
चंबा- 6, बिलासपुर- 6, मंडी- 8, बद्दी नालागढ़- 1, कांगड़ा- 17, कुल्लू- 28, हमीरपुर- 4, सोलन- 14, ऊना- 2, सिरमौर- 10, शिमला- 7 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!