जल्द ही 'यहां' 10 सहकारी सभाएं रद्द हो जाएंगी, मचा हड़कंप

  • जल्द ही 'यहां' 10 सहकारी सभाएं रद्द हो जाएंगी, मचा हड़कंप
You Are HereHimachal Pradesh
Friday, May 19, 2017-1:36 PM

कुल्लू : हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में 10 सहकारी सभाओं को रद्द करने का निर्णय लिया गया है। इसके लिए विभाग ने प्रक्रिया भी शुरू कर दी है। वित्तीय अनियमितताओं और शिकायतों के बाद हुई जांच रिपोर्ट के आधार पर यह फैसला लिया गया है। जल्द ही इन सहकारी सभाओं को रद्द कर दिया जाएगा और इसके बाद ये सहकारी सभाएं किसी तरह के लेन-देन, उत्पादन और सरकार से किसी तरह की आर्थिक सहायता लेने के लिए अधिकृत नहीं रहेंगी। जिला कुल्लू में मौजूदा दौर में कुल 633 सहकारी सभाएं कार्यरत हैं। इनमें 62 सहकारी सभाएं निष्क्रिय चल रही हैं, जबकि 10 सभाओं को रद्द करने की प्रक्रिया अंतिम चरण में है। इन सभाओं पर हो रही कार्रवाई से अन्य सभाओं के पदाधिकारियों में भी हड़कंप मच गया है। कइयों ने अपने दस्तावेजों को दुरुस्त करने का कार्य युद्ध स्तर पर शुरू कर दिया है। बताया जा रहा है कि कई सहकारी सभाओं के पदाधिकारियों ने दस्तावेजों को दुरुस्त करने के लिए निरीक्षकों व अन्य संबंधित जानकारों के यहां डेरा डाल दिया है। निष्क्रिय चल रही अन्य सहकारी सभाओं को भी अपना पत्ता साफ होने का डर सताने लगा है।

यह है कुल सभाओं की संख्या
कुल्लू में 127 प्राइमरी कृषि सहकारी सभाएं, 17 कर्मचारी ऋण एवं बचत सभाएं, एक जिला को-ऑप्रेटिवयूनियन, एक जिला फैडरेशन, 6 तहसील मार्कीटिंग सोसायटी, 47 प्राइमरी मार्कीटिंग सोसायटी, 2 प्रोसैसिंग सभाएं, 3 मत्स्य सभाएं, 105 दुग्ध सहकारी सभाएं, 213 बुनकर सभाएं, 13 औद्योगिक सभाएं, 3 गृह निर्माण सभाएं, 36 कंज्यूमर स्टोर और 24 श्रम एवं निर्माण सभाएं सहित अन्य 35 सहकारी सभाएं हैं। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!