केंद्र से प्रदेश की जनता मांगेगी हिसाब: विक्रमादित्य सिंह

  • केंद्र से प्रदेश की जनता मांगेगी हिसाब: विक्रमादित्य सिंह
You Are HereHimachal Pradesh
Tuesday, October 10, 2017-9:30 AM

सोलन: युवा कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि युवा कांग्रेस चुनावों के लिए पूरी तरह से तैयार है। कांग्रेस सरकार द्वारा 5 सालों में करवाए गए विकास सहित अन्य कार्यों पर कांग्रेस वोट मांगेगी। उन्होंने माना कि प्रचार में कांग्रेस पीछे है लेकिन उन्होंने कहा कि भाजपा की तरह कांग्रेस अभी झूठा प्रचार व जुमलेबाजी नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि इन दिनों भाजपा हिसाब मांगे हिमाचल के जरिए प्रदेश सरकार से सवाल कर रही है। इसका जवाब युवा कांग्रेस जवाब देगा हिमाचल कार्यक्रम से देगी। सोलन में आयोजित युवा कांग्रेस की रैली के दौरान उन्होंने कहा कि भाजपा द्वारा हिमाचल सरकार से जवाब मांगने की बजाय हिमाचल के लोगों को केंद्र की मोदी सरकार से हिसाब मांगना चाहिए। लोगों को पूछना चाहिए कि उनके बैंक खातों में अभी तक 15 लाख रुपए क्यों नहीं आए।

गैर-संगठित क्षेत्र में लोगों को बेरोजगार होना पड़ा
प्रधानमंत्री बनने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 3 बार हिमाचल का दौरा किया। इस दौरान वह हिमाचल के लिए कोई भी नई योजना क्यों नहीं दे पाए। उन्होंने कहा कि भाजपा गुजरात को रोल मॉडल के तौर पर पेश करती है लेकिन हिमाचल कठिन भौगोलिक परिस्थितियों का क्षेत्र होने के बावजूद गुजरात से ज्यादा विकसित है। उन्होंने कहा कि जी.एस.टी. लागू होने के बाद से देश के कई हिस्सों में गैर-संगठित क्षेत्र में लोगों को बेरोजगार होना पड़ा है। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी चुनाव से पहले कहते थे कि न खाऊंगा और न खाने दूंगा लेकिन अब स्थिति विपरीत नजर आ रही है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह की कंपनी में हुई टर्नओवर को लेकर अब केंद्र की सी.बी.आई. व आई.टी. सहित अन्य जांच एजैंसियां कहां हैं। जनसभा को संबोधित करते हुए युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रभारी सूरज हेगड़े ने कहा कि कांग्रेस प्रदेश में फिर से सरकार बनाएगी और मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के नेतृत्व में चुनाव लड़ेगी।

युवा कांग्रेस प्रत्याशियों के लिए टिकट मांगेगी
जनसभा के बाद पत्रकार वार्ता में युवा कांग्रेस के अध्यक्ष विक्रमादित्य ने कहा कि युवा कांग्रेस प्रत्याशियों के लिए टिकट मांगेगी। करीब 10 युवा कांग्रेस के कार्यकत्र्ताओं ने आवेदन किया है। उन्होंने कहा कि लगातार हार रहे नेताओं के स्थान पर पार्टी नए चेहरों को टिकट देगी और जिताऊ उम्मीदवारों को भी प्राथमिकता दी जा रही है। यह सब निर्णय पार्टी हाईकमान कर रही है। उन्होंने कहा कि उन्होंने अभी तक टिकट के लिए आवेदन नहीं किया है। यदि पार्टी चाहेगी तो वह चुनाव लड़ेंगे वर्ना संगठन में रह कर कार्य करेंगे।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!