चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग तैयार, 50 हजार कर्मचारी संभालेंगे मोर्चा

  • चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग तैयार, 50 हजार कर्मचारी संभालेंगे मोर्चा
You Are HereHimachal Pradesh
Friday, October 13, 2017-5:02 PM

शिमला (विकास): राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी पुष्पेंद्र राजपूत ने कहा है कि हिमाचल प्रदेश में चुनाव को लेकर आयोग ने सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं। उन्होंने कहा कि चुनाव में कुल करीब 50 हजार कर्मचारी सेवाएं देंगे। इनमें 38 हजार पोलिंग स्टेशन पर होंगे। इसके अलावा केंद्रीय पुलिस बल की 75 कंपनियां मंगवाई जाएगी। हर पोलिंग बूथ पर दो वॉलंटियर रहेंगे जो मतदाताओं की मदद करेंगे। उनका कहना था कि मतदान से एक सप्ताह पहले फोटो वोटर नंबर की स्लिप मतदाता को मिलनी शुरू हो जाएगी। 


चुनाव में पहली बार होगा वीवीपैट का इस्तेमाल
इस चुनाव में पहली बार वीवीपैट का इस्तेमाल होगा और इसके लिए जागरूकता अभियान तेजी से चल रहा है। राजपूत ने कहा कि प्रदेश में कुल 7521 मतदान केंद्र स्थापित किए गए हैं। उन्होंने कहा कि इन मतदान केंद्रों में 49, 13, 888 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। यह सूची 15 सितंबर की है। इसके बाद 78 हजार और आवेदन आए हैं। ऐसे में मतदाताओं की संख्या और बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि वोट डालने के लिए वोटर पहचान पत्र लाना जरूरी है। उन्होंने कहा कि उम्मीदवारों की सुविधा के लिए सुविधा साफ्टवेयर बनाया है और इसके माध्यम से उम्मीदवार या पार्टी इजाजत को अप्लाई करने के साथ ही इजाजत भी देगी। उनका कहना था कि वेबकास्टिंग से पूरी पारदर्शिता से काम होगा।


कानून व्यवस्था बनाए रखने को अफसरों से की वीडियो कांफ्रेंसिंग
राजपूत ने कहा कि राज्य में 51 क्रिटिकल पोलिंग स्टेशन हैं और इनकी वेब कास्टिंग की जाएगी। उन्होंने कहा कि ऐसे पोलिंग स्टेशन पर अतिरिक्त पुलिस बल तैनात होगा। राजपूत ने कहा कि राज्य में सबसे कम 6 मतदाता किन्नौर के पोलिंग स्टेशन पर हैं, जबकि अधिकतम सोलन के 72 पोलिंग स्टेशन में 1889 मतदाता हैं। इसके अलावा हिक्किम सर्वाधिक ऊंचाई पर स्थापित मतदान केंद्र है और वहां 46  मतदाता हैं। उनका कहना था कि राज्य में लाहौल स्पीति में सबसे कम 22849 मतदाता हैं, जबकि सबसे ज्यादा मतदाता कसौली सीट में 92753 मतदाता हैं। 


राज्य 68 सीटों में से 17 एससी और 3 एसटी के लिए आरक्षित रहेगी
राजपूत का कहना था कि राज्य 68 सीटों में से 17 एससी और 3 एसटी के लिए आरक्षित रहेगी। उन्होंने कहा कि आयोग के पास एमसीसी के वायोलेशन की कोई शिकायत नहीं आई है। उन्होंने कहा कि मतदाताओं की सुविधा को एक व्हील चेयर रहेगी हर मतदान केंद्र पर, 500 व्हील चेयर का आर्डर दिया गया है। उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था बनाए रखने और पड़ोसी राज्यों से शराब की तस्करी रोकने को पड़ोसी राज्यों के पुलिस अफसरों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग की गई है। सुरक्षा को लेकर पूरे प्रबंध किए गए हैं।  
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!