हिमाचल के ‘इस’ जिला में सड़कों का मिटा नामोनिशान, पास रूट हुए अनफिट

  • हिमाचल के ‘इस’ जिला में सड़कों का मिटा नामोनिशान, पास रूट हुए अनफिट
You Are HereHimachal Pradesh
Monday, September 11, 2017-1:16 AM

हमीरपुर: बरसात खत्म हो गई है मगर ग्रामीण क्षेत्रों में हालात नहीं बदले हैं। कई ऐसे ग्रामीण क्षेत्र हैं, जहां सड़कों की हालत दयनीय बनी हुई है। हमीरपुर पी.डब्ल्यू.डी. मंडल की सड़कों की हालत भी कुछ ऐसी ही है, जहां पर सड़कों पर गिरे ल्हासों को हटाकर निकासी नालियों में मलबा छोड़कर विभाग ने अपनी जिम्मेदारी से आंखें फेर ली हैं, वहीं सड़कों में नालियां निकालना भी ठीक नहीं समझा है। कहीं पर झाडिय़ां ही इतनी हैं कि विपरीत दिशा से आ रही गाडिय़ां पास भी नहीं ले सकती हैं। इसी तरह हमीरपुर शहर से 6 किलोमीटर दूर हमीरपुर-सुजानपुर वाया देई का नौण-चलोखर सड़क का भी ऐसा ही हाल है, जिस पर करीब एक किलोमीटर हिस्से को एक साल पहले पक्का किया गया था मगर अब उस हिस्से के हालात ही बदल गए हैं। एक साल में ही कई जगहों पर ऐसा लगता है कि सड़क नाम की चीज ही नहीं है।
PunjabKesari
सड़क को अनफिट घोषित कर चुके हैं एच.आर.टी.सी. के चालक 
सड़क की बदहालत व तीखे मोड़ों के कारण पास हो चुकी इस सड़क को परिवहन निगम के चालकों ने भी अनफिट घोषित कर दिया है तथा एक दिन एच.आर.टी.सी. की बसें चलने के बाद रूट बंद कर दिए हैं। इसके बावजूद अब तक संबंधित विभाग ने इस सड़क की मुरम्मत करने की जहमत नहीं उठाई है। गड्ढों से भरी इस सड़क पर आए दिन दोपहिया वाहन चालक भी स्किड होकर चोटिल हो रहे हैं। इन दोनों सड़कों पर दर्जन भर पंचायतों की हजारों की आबादी निर्भर है मगर लोगों की सुनवाई आज दिन तक किसी ने नहीं की है। इससे सबसे ज्यादा असुविधा स्कूल-कालेज जाने वाले विद्यार्थियों व नौकरीपेशा लोगों को उठानी पड़ती है जोकि यातायात की हिचकोले खाती इस मूलभूत सुविधा के होते हुए भी असुविधा झेल रहे हैं।  
PunjabKesari
नालियों में छोड़ दिया ल्हासों का मलबा
हमीरपुर शहर से समीपवर्ती मटाहणी से खगल, कुसवाड़ होकर मसियाना निकलने वाली सड़क की बात करें तो इसके कुछ हिस्से में जून माह में टारिंग की गई है मगर 2 माह में ही टारिंग जगह-जगह से उखड़ गई है। इस संपर्क मार्ग पर नालियां ही बंद पड़ी हैं तथा सड़क किनारे उगी झाडिय़ों से पैरापिट भी नहीं दिखते। इतना ही नहीं, झाडिय़ों के कारण कई बार वाहन चालक भी दूसरे वाहन को पास देते समय दुर्घटना होने से बाल-बाल बचे हैं। इस संपर्क मार्ग पर पिछले दिनों हुई बारिश से जगह-जगह ल्हासे भी गिरे थे मगर विभाग ने ल्हासों को सड़क से हटाकर निकासी नालियों में मलबा छोड़ दिया है जोकि दोबारा सड़क को अवरुद्ध कर सकता है। इस सड़क की ऐसी हालत देखकर लगता नहीं है कि जिम्मेदार अधिकारी कभी कार्यालय से निकलकर सड़कों का हालचाल भी जानते हों। 
PunjabKesari
क्या कहते हैं अधिकारी
पी.डब्ल्यू.डी. मंडल हमीरपुर  के अधिशासी अभियंता एन.पी. चौहान  ने कहा कि इन सड़कों के बारे विभागीय रिपोर्ट मंगवाई जाएगी। मटाहणी से मसियाना रोड पर कुछ हिस्से पर अभी टारिंग नहीं की गई है। फिर भी सड़क की हालत का जायजा लेकर उचित कदम उठाए जाएंगे। जहां तक दूसरे रोड की बात है तो इसके बारे में जानकारी ली जाएगी कि पास हुई सड़क पर निगम की बसें क्यों नहीं चलाई जा रही हैं। अगर कहीं पर कोई कमी है तो दूर किया जाएगा।


अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन