‘अनुराग पर दर्ज केस खारिज होना प्रदेश सरकार के मुंह पर करारा तमाचा’

  • ‘अनुराग पर दर्ज केस खारिज होना प्रदेश सरकार के मुंह पर करारा तमाचा’
You Are HereHimachal Pradesh
Thursday, July 13, 2017-5:10 PM

हमीरपुर: एच.पी.सी.ए. सदस्य नरेंद्र अत्री ने वीरवार को प्रैस बयान में कहा कि साढ़े 4 वर्ष पहले प्रदेश की भोलीभाली जनता से लुभावने वायदे करके सत्तारूढ़ हुई कांग्रेस सरकार का साढ़े 4 वर्ष के कार्यकाल का आकलन करें तो सरकार ने अपने कार्यकाल का अधिकतर समय एच.पी.सी.ए. पर कब्जा करने के उद्देश्य से अपने भ्रष्टाचार पर पर्दा डालने एवं भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर एवं भाजपा नेतृत्व पर झूठे केस बनाने में गंवा दिए, जिनमें से अधिकतर मामले एक-एक करके उच्च न्यायाय एवं सर्वोच्च न्यायालय में खारिज हो रहे हैं। हाल ही में सर्वोच्च न्यायालय द्वारा एक ऐसे ही केस जो प्रदेश सरकार ने 24 अक्तूबर, 2013 को भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर पर आई.पी.सी. की धारा 186 के तहत दर्ज करवाया था और जिसे पिछले वर्ष उच्च न्यायालय ने खारिज किया था, उसको खारिज करना इसका प्रमाण है। 

जनता से किए चुनावी वायदों को पूरा नहीं कर पाई सरकार 
उन्होंनेे प्रदेश सरकार पर आरोप लगाया कि प्रदेश सरकार न तो जनता के साथ किए चुनावी वायदों को पूरा कर पाई है और न ही प्रदेश मे कानून व्यवस्था को सही कर पा रही है। प्रदेश में घट रही घटनाओं से लगता है, मानों असामाजिक एवं गुंडा तत्वों के हौसले चरम पर हैं, उन्हें कानून का कोई भय नहीं। शांतिप्रिय प्रदेश के कोटखाई में हाल ही में हुई बलात्कार की घटना ने प्रदेश के आम जनमानस को झकझोर कर रख दिया है। इससे पहले करसोग में फोरैस्ट गार्ड की हत्या का मामला, और भी कई ऐसे मामले हैं, जिनमें दोषी पुलिस की पहुंच से दूर हैं और उस पर सरकार के गैर-जिम्मेदार बयान आम जनमानस को आहत कर रहे हैं। 

झूठी और भ्रष्ट सरकार को सत्ता में बने रहने का अधिकार नहीं
उन्होंने कहा कि ऐसी झूठी और भ्रष्ट सरकार को सत्ता में बने रहने का कोई अधिकार नहीं है। उन्होंने प्रदेश सरकार से कहा कि यदि प्रदेश सरकार को जनभावनाओं की थोड़ी भी कदर है तो खुले में घूम रहे बलात्कारियों व हत्यारों को पकड़ कर पीड़ित परिवारों को न्याय दिलाए या फिर इन अनसुलझे केसों की तुरंत सी.बी.आई. जांच करवाए ताकि  शांतिप्रिय प्रदेश में असमाजिक एवं गुंडातत्वों को कड़ी सजा दिलाकर प्रदेश की शांति को बहाल किया जा सके। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!