पहाड़ों पर गिरे फाहे, शिमला में हुई बारिश

  • पहाड़ों पर गिरे फाहे, शिमला में हुई बारिश
You Are HereHimachal Pradesh
Thursday, December 7, 2017-3:04 PM

शिमला:राजधानी शिमला सहित ऊपरी इलाकों में रुक-रुक कर बारिश व बर्फबारी का दौर जारी रहा। ऊंची चोटियों पर बर्फबारी और कुछ निचले इलाकों में बारिश होने से राजधानी में ठंड काफी बढ़ गई है।  बुधवार आधी रात अचानक घने बादल आए और फिर झमाझम बारिश शुरू हो गई, इस बारिश से किसान बहुत खुश है। लेकिन आसमान में बादलों का डेरा अभी भी बना हुआ है। बताया जा रहा है कि शिमला के साथ लगते पर्यटन स्थल कुफरी, मशोबरा, छराबड़ा, ठियोग, नारकंडा, कुमारसेन  क्षेत्रों में बारिश का सिलसिला जारी रहने से ठंड का प्रकोप  बढ़ गया है। हालांकि बारिश हल्की हुई है पर ठंड काफी बढ़ गई है। लगों को बढ़ी उमीद थी कि इस बारिश के साथ बर्फबारी भी होगी लेकिन एेसा नहीं हुअा जिसके चलते वह स्थानीय लोगों में काफी रोष है। बताया जा रहा है कि पर्यटन स्थलों के कारोबारी को भी बर्फबारी की उमीद लगाई बैठे थे। वहीं दूसरी ओर कुल्लू के और निरमंड को जोड़ने वाले हाईवे 305 के जलोड़ी दर्रे पर बर्फबारी जारी हो चुकी है। 

किसानों के चेहरे खिले 
सुबह करीब साढ़े आठ बजे के बाद से बर्फबारी के चलते दर्रे से आना-जाना जोखिम भरा हो गया है, ऐसे में ज़िला प्रशासन ने लोगों को एहतियात बरतने की सलाह दी है। वहीं मौसम विभाग के अनुसार आगामी दिनों में प्रदेश में बर्फबारी होने की आसार है। बंजार व सराज घाटी की ऊंची पहाड़ियों में हुई हल्की बर्फबारी से किसानों वह बागवानों के चेहरे खिल गए है। लेकिन बारिश सभी इलाकों में नहीं हुई है। ऐसे में किसान और बागवान अभी भी अच्छी बारिश का बारिश का इंतजार कर रहे हैं। बारिश बर्फबारी से घाटी में शीत लहर चल रही है कुल्लू घाटी में मौसम खराब आसमान में घने काले बादल छाए हुए हैं। 

 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!