निजी बसों के प्रैशर हॉर्न बने लोगों के लिए परेशानी का सबब

  • निजी बसों के प्रैशर हॉर्न बने लोगों के लिए परेशानी का सबब
You Are HereHimachal Pradesh
Thursday, April 20, 2017-10:36 AM

अम्ब : उपमंडल अम्बमें निजी बसों में लगे प्रैशर हॉर्न लोगों के लिए परेशानी का सबब बने हुए हैं। रोड सेफ्टी क्लबों की बैठक में यह मुद्दा जोर-शोर से उठने के उपरांत भी अभी तक इन बस चालकों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई है। निजी बस चालक स्कूलों व कॉलेज के पास तथा बाजार में प्रैशर हॉर्न का उपयोग करते देखे जा सकते हैं। बाजार में पहुंचने पर इन बसों की गति शताब्दी एक्सप्रैस से भी ज्यादा होती है। पीछे से समय बचाते हुए ये बस वाले आते हैं और बाजार में बसों को इतनी तेज गति से प्रैशर हॉर्न बजाते हुए लेकर जाते हैं कि किसी भी बड़ी दुर्घटना से इंकार नहीं किया जा सकता है। दोपहिया वाहन चालक व पैदल चलने वाले लोग तो इन प्रैशर हॉर्नों से सहम से जाते हैं। बाबा सिद्ध चानो क्लब के सदस्यों कपिल शर्मा, अमन पुरी, राजेश वैद्य व संदीप शर्मा का कहना है कि प्रैशर हॉर्न का इस्तेमाल कर रही बसों के चालान काटने के साथ-साथ इनके प्रैशर हॉर्न भी मौके पर उतारने चाहिए ताकि फिर से वे इनका उपयोग न कर सकें। रोड सेफ्टी क्लब के वरिष्ठ उपाध्यक्ष विशाल पुरी ने कहा कि इन प्रैशर हॉर्न को लेकर बैठक में चर्चा हुई है और इन पर कार्रवाई करने के लिए कहा गया है, वहीं इस संबंध में डी.एस.पी जितेंद्र चौधरी का कहना है कि पुलिस समय-समय पर इन बसों के चालान काटती है।    

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!