भारी पुलिस बल की मौजूदगी में प्रशासन ने गिराए गए अवैध निर्माण (Watch Video)

You Are HereHimachal Pradesh
Sunday, December 17, 2017-4:19 PM

नूरपुर (भूषण शर्मा): नूरपुर शहर के चौगान में धार्मिक स्थल के पास 2 अवैध निर्माण शनिवार को पुलिस पहरे में ए.डी.एम. मस्त राम भारद्वाज की अगुवाई में गिराए गए। उल्लेखनीय है कि उक्त अवैध कब्जे को गिराने को लेकर सुबह 11 बजे एस.डी.एम. आविद हुसैन सादिक की अगुवाई में प्रशासन ने कार्रवाई शुरू की थी, लेकिन कुछ लोगों तथा संगठनों द्वारा विरोध करने के बाद माहौल ने साम्प्रदायिक रंग ले लिया। जिसके कारण प्रशासन को कार्रवाई पर ब्रेक लगानी पड़ी। इसी बीच कुछ लोगों तथा एस.डी.एम. के बीच बहसबाजी भी शुरू हो गई। माहौल को तनावपूर्ण देखते हुए एस.डी.एम. आविद हुसैन सादिक ने कार्रवाई को रोकने के आदेश दिए। 
PunjabKesari

एस.डी.एम. ने अपने कार्यालय पहुंच इस सारी घटना की सूचना डी.सी. तथा ए.डी.एम. को दी। जिलाधीश के आदेशों के बाद ए.डी.एम. मस्त राम भारद्वाज की अगुवाई में पुलिस बटालियन वहां पहुंची तथा शाम 4 बजे के बाद अवैध कब्जों को तोड़ा गया। चौगान में हुए तनाव के कारण पुलिस द्वारा धारा 144 भी लगाई गई। विदित रहे कि माननीय उच्च न्यायालय के आदेशानुसार चौगान में चंबा रोड पर धार्मिक स्थल के साथ कुछ दुकानें बनी हुई हैं, जिसे लेकर हाईकोर्ट ने इन दुकानों को गिराकर इस भूमि को खाली करवाने के आदेश दिए थे। 
PunjabKesari

मामला उच्च न्यायालय के आदेशों कि अनुपालना करने का है, जिसके लिए प्रशासन को 19 दिसंबर से पहले स्टेट्स रिपोटर्स सौंपनी थी। उधर, प्रभावित का कहना है की उन्होंने यह जगह बक्फ बोर्ड से लीज पर ली थी, जिसकी अवधि को समय था, लेकिन उन्हें सिर्फ 2 दिन का शोर्ट नोटिस मिला, जिससे वह अपनी दलील हाईकोर्ट के सामने रखने के लिए भी वंचित रह गए। इस संदर्भ में एस.डी.एम. ने कहा कि उन्होंने हाईकोर्ट के आदेश के अनुसार कार्रवाई की है। उन्होंने कहा कि इस मामले में बेवजह कुछ लोगों द्वारा तूल दिया गया। चौगान में अवैध कब्जों को तोड़ने के समय हुई कार्रवाई के दौरान हुई घटना के संदर्भ में पुलिस ने 7 लोगों के खिलाफ धार्मिक भावना भड़काने तथा सरकारी कार्य में बाधा पहुंचाने पर धारा 153ए तथा 353 के तहत मामला दर्ज किया है।

 

 


अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन