मयाड़ घाटी में बाराती व कोकसर में यात्री फंसे

  • मयाड़ घाटी में बाराती व कोकसर में यात्री फंसे
You Are HereHimachal Pradesh
Sunday, November 19, 2017-8:18 PM

कुल्लू: हिमाचल के जनजातीय क्षेत्रोंं में बर्फबारी से सड़क मार्ग बाधित हो गए हैं। बर्फबारी से उदयपुर में दूल्हा-दुल्हन और बाराती बर्फ में फंस गए हैं। लाहौल में हिमपात के बाद 35 बाराती फंस गए हैं। बारात कुल्लू से लाहौल की मयाड़ घाटी के लिए निकली थी, लेकिन वापसी पर बर्फबारी होने से बस व दूसरे वाहनों के पहिए जाम हो गए। 

अलबत्ता प्रशासन ने सभी बरातियों के रहने की व्यवस्था विश्राम गृह में कर दी है। साथ ही चाय नास्ते का प्रबंध भी कर दिया है। एसडीएम उदयपुर सुनील वर्मा ने बताया कि बारातियों के ठहरने के पूरे प्रबंध हैं और मार्ग खुलने का समाचार मिलते ही इन्हें रवाना कर दिया जाएगा। वहीं कोकसर में भी 46 लोग फंसे हुए हैं।

डीसी देवा सिंह के मुताबिक पूरी लाहौल घाटी में बिजली, पानी, दूरसंचार-इंटरनेट, खाद्य आपूर्ति और अन्य सभी आवश्यक सेवाएं सुचारू रूप से चल रही हैं। कोकसर स्थित बचाव चौकी में खाद्य वस्तुएं, लकड़ी, दवाईयां और अन्य सामग्री पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। कोकसर में कुछ ढाबे अभी भी खुले हैं और वहां इंटरनेट सेवा चल रही हैं। नेगी ने बताया कि मौसम साफ होते ही रोहतांग दर्रे को बहाल कर दिया जाएगा। जिला प्रशासन सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) के अधिकारियों के संपर्क में है। उन्होंने मौसम साफ होते ही बहाली का कार्य आरंभ करने की बात कही है। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!