HRTC में नहीं मिल रही ‘यह’ सुविधा, यात्री अधिक किराया भरने को मजबूर

  • HRTC में नहीं मिल रही ‘यह’ सुविधा, यात्री अधिक किराया भरने को मजबूर
You Are HereHimachal Pradesh
Thursday, September 7, 2017-6:35 PM

बिलासपुर: एच.आर.टी.सी. में यूं तो अपने नियमित यात्रियों को सुविधा देने के लिए यलो कार्ड, ग्रीन कार्ड इत्यादि चला रखे हैं व महिलाओं को भी बस टिकट में 25 प्रतिशत की छूट दे रखी है लेकिन सुबह 5 बजे की पहली बस से बिलासपुर के शिमला जाने वाले यात्रियों को बिलासपुर एच.आर.टी.सी. बस अड्डा से टिकट लेने पर ये छूट नहीं मिल रही है। न तो यलो कार्ड पर कोई छूट मिल रही है व न ही महिलाओं को, जिससे एच.आर.टी.सी. की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लग रहा है। बस अड्डा बिलासपुर प्रबंधन से इस विषय पर पूछने पर हालांकि उन्होंने ऑनलाइन साफ्टवेयर को इसका दोषी ठहराया व यह भी बताया कि बस अड्डा प्रबंधन कई दिन पूर्व ही इस मामले की जानकारी उच्चाधिकारियों को दे चुका है। उन्होंने माना कि यह समस्या कुछ दिनों से चली हुई है। 
PunjabKesari
बुकिंग क्लर्क से हुई तू-तू मैं-मैं
मामले के भुक्तभोगी बिलासपुर के डियारा सैक्टर निवासी लेख राम ने बताया कि वह अपनी पत्नी सहित बिलासपुर बस अड्डा से सुबह 5 बजे की पहली बस से शिमला गए। एच.आर.टी.सी. के टिकट काऊंटर पर उन्होंने टिकट लिया तो बुकिंग क्लर्क ने उन्हें न तो यलो कार्ड पर छूट दी व न ही उनकी पत्नी के टिकट में किराये में कोई छूट दी जिससे उन्हें कुल मिलाकर साढ़े 22 प्रतिशत राशि किराये के रूप में अधिक देनी पड़ी, साथ ही बुकिंग क्लर्क के साथ उनकी तू-तू-मैं-मैं हुई वो अलग।

महिलाओं से वसूला जा रहा अधिक किराया  
उन्होंने कहा कि यह तो प्रतिदिन का मामला है। इस प्रकार एच.आर.टी.सी. लंबे समय से न जाने कितने यलो, ग्रीन कार्ड धारक यात्रियों या महिलाओं से अधिक किराया वसूल कर रही है। उन्होंने एच.आर.टी.सी. प्रबंधन से मांग की कि इस मामले में तुरंत कार्रवाई की जाए व इस साफ्टवेयर को ठीक करवाया जाए ताकि यात्रियों को एच.आर.टी.सी. द्वारा किराये में दी गई छूट मिल सके व उनका पैसा व्यर्थ में न जाए। 

क्या कहते हैं एच.आर.टी.सी. के क्षेत्रीय प्रबंधक
उधर, इस बारे में एच.आर.टी.सी. के क्षेत्रीय प्रबंधक पवन शर्मा का कहना है कि मामला उनके ध्यान में है। साफ्टवेयर समस्या है। इस समस्या के बारे में हमीरपुर स्थित साफ्टवेयर इंजीनियर व उच्चाधिकारियों को अवगत करवाया दिया गया है। एकाध दिन में समस्या ठीक हो जाएगी।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !