विश्व प्रसिद्ध रोहतांग मामले पर NGT सुनाएगा अपना अंतिम फैसला

  • विश्व प्रसिद्ध रोहतांग मामले पर NGT सुनाएगा अपना अंतिम फैसला
You Are HereHimachal Pradesh
Tuesday, November 14, 2017-10:00 AM

मनाली: सोमवार को दिल्ली में हुई एन.जी.टी. की सुनवाई में फैसला मंगलवार के लिए सुरक्षित रखा गया है। मंगलवार को एन.जी.टी. अपना अंतिम फैसला सुनाएगा। देश व दुनिया के पर्यटकों की पहली पसंद बने रोहतांग दर्रे में पर्यावरण संरक्षण को लेकर एन.जी.टी.ने सभी व्यावसायिक पर्यटन गतिविधियों पर रोक लगा दी है, जिससे स्थानीय पर्यटन व्यवसायियों का कारोबार प्रभावित हुआ है। हालांकि एन.जी.टी. ने आंशिक राहत देते हुए कुछ गतिविधियों को सही ढंग से रैगुलेट करने के बाद शुरू करने की अनुमति दे दी थी लेकिन ग्रामीणों ने अपनी रोजी-रोटी का हवाला देते हुए राहत का आग्रह किया था। पलचान पंचायत के प्रधान सुंदर ठाकुर ने बताया कि एन.जी.टी. मंगलवार को अपना अंतिम फैसला सुनाएगा। 


घाटी के सैंकड़ों लोग बेरोजगार 
एन.जी.टी. ने रोहतांग दर्रे के लिए पर्यटक वाहनों का भी आंकड़ा निर्धारित किया है। हर रोज 400 डीजल और 800 पैट्रोल इंजन वाहन रोहतांग जा रहे हैं। रोहतांग दर्रे पर पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए जुलाई, 2015 में रोहतांग और सोलंग पर आयोजित होने वाली सभी कर्मिशयल गतिविधियों पर प्रतिबंध लगा दिया था। प्रतिबंध लगने से मनाली की ऊझी घाटी के सैंकड़ों लोग बेरोजगार हो गए। प्रदेश सरकार सहित स्थानीय एसोसिएशनों ने एन.जी.टी. में अपना पक्ष रखा। एन.जी.टी. ने मई, 2016 को कमॢशयल एक्टीविटी पर आंशिक तौर पर राहत देते हुए उन्हें चिन्हित स्थानों पर चलाने की अनुमति दी थी।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!