20 घंटे में मिला नवजात का शव, अपहरण की इस गुत्थी में पुलिस भी उलझी

  • 20 घंटे में मिला नवजात का शव, अपहरण की इस गुत्थी में पुलिस भी उलझी
You Are HereHimachal Pradesh
Thursday, August 10, 2017-2:01 PM

ऊना (सुरिंद्र): ऊना की रक्कड़ कॉलोनी से हुए बच्चे के अपहरण मामले में एक नया मोड सामने आया है। बुधवार को जिस मासूम बच्चे का अपहरण हुआ था उसका शव 20 घंटे बाद घर से करीब 70 मीटर की दूरी पर खड्ड में मिला है। बच्चे का शव आज सुबह करीब 8 बजे गांव के एक व्यक्ति ने देखा और इसकी जानकारी तुरंत बच्चे के घरवालों को दी। शव मिलने की सूचना मिलते ही एएसपी मदन लाल कौशल व डीएसपी हैडक्वार्टकर कुलविंद्र सिंह मौके पर पहुंच गए और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए टांडा अस्पताल भेज दिया है। पुलिस द्वारा कॉल डिटेल खंगाली जा रही है। पुलिस के शक के घेरे में कुछ परिवार के अपने भी हैं। 
PunjabKesari

सच्चाई जानने में जुटी पुलिस
कुछ विवादास्पद बयान भी सामने आ रहे हैं। सच्चाई क्या है जानने में पुलिस जुटी हुई है। अगर अपहरण कल पौने 3 बजे हुआ तो शव सुबह कौन रख गया? और क्यों? जिस जगह बच्चे का शव मिला वहां के चप्पे-चप्पे पर पुलिस और स्थानीय लोग छानबीन कर चुके थे। स्पेशल डॉग की सेवाएं भी पलीस ने ली थी। अब शक की सुई अपनों पर भी है। बच्चे के शव का पोस्टमॉर्टम टांडा में होगा। हर पहलू की जांच की जाएगी। वहीं घर के समीप ही बच्चे का शव मिलने से परिवार द्वारा बताई जा रही अपहरण की कहानी पर भी पुलिस को शक हो रहा है क्योंकि जिस स्थान पर बच्चे का शव मिला है, उस क्षेत्र के चप्पे-चप्पे को पुलिस और स्थानीय लोगों द्वारा छानबीन की गई थी। फिलहाल पुलिस ने फोरेंसिक टीम को भी मौके का निरीक्षण करने के लिए बुला लिया है। पुलिस परिवार सहित स्थानीय लोगों से भी गहनता से पूछताछ रही है ताकि बच्चे की मौत से पर्दा उठ सके। वहीं पुलिस ने इस मामले में एस.आई.टी. का गठन कर दिया है। 
PunjabKesari

बुधवार को मां से छीन लिया था बच्चा

दिन-दिहाड़े रक्कड़ में बसोली रोड निवासी राजेंद्र कौर अपने 2 महीने के बेटे हरमनदीप सिंह के साथ घर पर मौजूद थी। राजेंद्र कौर घर के आंगन में बने बाथरूम से बच्चे को लेकर कमरे में जा रही थी। जैसे ही वह आंगन में पहुंची दो नकाबपोश लड़के उसके पास आए और राजेंद्र कौर से बच्चा छीन कर फरार हो गए। बच्चे को पुलिस और स्थानीय लोगों ने काफी तलाश किया, लेकिन कोई पता नहीं चल पाया। उधऱ,एएसपी मदन लाल कौशल ने बताया कि पुलिस परिवार द्वारा बताई जा रही अपहरण की कहानी को संदिग्ध मान रही है। इसलिए परिवार सहित स्थानीय लोगों से पूछताछ कर रही है। जल्द ही सच का पता चल जाएगा।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!