कोटरोपी हादसा : बारिश ने डाला खलल, लापता लोगों के मिलने की आस तोड़ने लगी दम

  • कोटरोपी हादसा : बारिश ने डाला खलल, लापता लोगों के मिलने की आस तोड़ने लगी दम
You Are HereHimachal Pradesh
Monday, August 21, 2017-2:03 AM

पधर: कोटरोपी हादसे के 8वें दिन भी राहत कार्य व सर्च आप्रेशन जारी रहा। बीते 2 दिनों से रुक-रुक कर हो रही बारिश से राहत कार्य में दिक्कत आ रही है। हालांकि अभी तक 2 लोग लापता बताए जा रहे हैं ,उनके मिलने की आस भी अब दम तोड़ने लगी है। प्रशासन इसके साथ-साथ सड़क मार्ग को शीघ्र बहाल करने की दिशा में भी कार्य कर रहा है। प्रशासन ने सोमवार तक मार्ग बहाल करने की बात कही थी लेकिन जिस तरह से बारिश हो रही है उससे लगता है कि अभी कुछ और दिन मार्ग बहाली में लग सकते हैं। रविवार को स्थानीय विधायक व प्रदेश सरकार में स्वास्थ्य मंत्री कौल सिंह ठाकुर ने घटनास्थल पर आकर राहत कार्यों का जायजा लिया तथा प्रभावित परिवारों से भी मिले। इस दौरान उन्होंने प्रभावितों को सरकार की ओर से जारी राहत राशि भी प्रदान की। 
PunjabKesari
ग्रामीणों ने बताई समस्याएं
इस मौके पर शास्ति, बड़वाहन, उरला, कोटरोपी व गवली आदि गांव के ग्रामीण भी मंत्री से मिले। ग्रामीणों ने स्वास्थ्य मंत्री से आग्रह किया है कि उन्हें आने-जाने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। लोगों को मंडी या जोगिंद्रनगर जाने के लिए कई किलोमीटर पैदल सफर करना पड़ रहा है। उन्होंने मांग की है कि कोटरोपी से घटासनी के लिए ओर दूसरी तरफ  कोटरोपी से पधर तक बस का प्रावधान किया जाए। मंत्री ने लोगों को आश्वस्त किया कि दोनों ओर से बस सेवा शुरू कर दी जाएगी।
PunjabKesari
बेघरों को बांटी राहत राशि 
इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री ने घटना में बेघर हुए चौबे राम को 1 लाख 39 हजार 200, जय चंद को 1 लाख 38 हजार 450, भोला राम को 72 हजार, साजू राम को 54 हजार 967, मनी राम को 54 हजार 966, लुगू राम को 1 लाख 19 हजार 900, सीता राम को 1 लाख 21 हजार 700, फूली राम को 1 लाख 19 हजार 900, डोला राम और खीमा राम को 3-3 हजार, दुनी चंद को 1 लाख 25 हजार 450 और भाग सिंह को 19 हजार 950 रुपए की राशि के चैक भैंट किए। स्वास्थ्य मंत्री ने मलबे की चपेट में आई 2 करियाना दुकानदारों रावण सिंह और बुद्धि सिंह के नुक्सान की रिपोर्ट तैयार करने के आदेश एस.डी.एम. पधर को दिए।

8 दिनों से घटनास्थल पर राहत कार्य में जुटा है प्रेम
पंचायत उरला के विकास दूत एवं आपदा प्रबंधन सर्व ट्रेनर उपमंडल पधर का प्रेम सिंह लगातार 8 दिनों से कोटरोपी आपदा के राहत कार्य में डटा है। स्थानीय पंचायत प्रधान रेखा देवी, टेक सिंह, भूप सिंह, मोहन सिंह व खेम सिंह सहित प्रशासनिक अधिकारियों ने प्रेम सिंह की सराहना की है।

प्रभावित परिवारों को जंगल में लगाए हैं टैंट
बड़वाहण और रोपा गांव के प्रभावित परिवारों ने डीपकन जंगल में टैंट लगाए हैं। प्रभावितों को वहां बिजली और पानी की व्यवस्था कर दी गई है जबकि सहायता के और प्रयास किए जा रहे हैं, वहीं अन्य प्रभावित परिवारों को रहने के लिए सुरक्षित जगह दी गई है। 3 परिवार वन विभाग के भवन और 4 परिवार पटवार खाना के भवन में ठहराए गए हैं।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !