Subscribe Now!

बाबा रामदेव पर मेहरबान होने जा रही जयराम सरकार, पढ़ें पूरी खबर

  • बाबा रामदेव पर मेहरबान होने जा रही जयराम सरकार, पढ़ें पूरी खबर
You Are HereHimachal Pradesh
Friday, January 19, 2018-5:56 PM

शिमला: प्रदेश की जयराम सरकार अब बाबा रामदेव पर मेहरबान हो सकती है। राज्य के सरकारी डिपुओं में पतंजलि के उत्पाद बेचने की योजना तैयार की जा रही है। इस संबंध में पतंजलि आयुर्वैद समिति के पदाधिकारियों के साथ खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री किशन कपूर की शुक्रवार को बैठक हो चुकी है। सरकार उपभोक्ताओं को सस्ते राशन के साथ पतंजलि के उत्पाद उपलब्ध करवाने पर विचार कर रही है। इस संबंध में खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री किशन कपूर ने कहा कि पतंजलि के उत्पादों की गुणवत्ता को देखते हुए इनकी देश भर में मांग बढ़ी है। उन्होंने कहा कि लोगों की मांग को देखते हुए अब पतंजलि के उत्पादों को उचित मूल्यों की दुकानों में भी उपलब्ध करवाया जाएगा। इन उत्पादों में विशेष रूप से खाद्य वस्तुएं, पेय उत्पाद, शर्बत, मसाले, होम केयर, जूस, करियाने का सामान, तेल, दालें व सिरप इत्यादि उपभोक्ताओं को उनके घर द्वार के समीप उपलब्ध करवाने के प्रयास किए जाएंगे।

सैंकड़ों उपभोक्ता उत्पाद तैयार कर रही पतंजलि
खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री ने कहा कि पतंजलि सैंकड़ों उपभोक्ता उत्पाद तैयार कर रही है और ऐसे में दैनिक जीवन में अधिक उपयोग में लाए जाने वाले उत्पादों को उचित मूल्यों की दुकानों के माध्यम से लोगों को उपलब्ध करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि चरणबद्ध ढंग से राज्य में कार्यरत सभी उचित मूल्यों की दुकानों में ये उत्पाद उपभोक्ताओं को उपलब्ध करवाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि बाजार में दाल चावल व आटे की दरों में उतार चढ़ाव के कारण मंडियों का अध्ययन करने के बाद इनकी निविदाएं हर महीने की जाएंगी।

फरवरी माह के अंत तक औपचारिकताएं पूरी करने के निर्देश
मंत्री ने नागरिक आपूर्ति निगम के अधिकारियों को इस संबंध में फ रवरी माह के अंत तक पतंजलि उत्पादों की उपलब्धता को व्यवहार्य बनाने के लिए सभी औपचारिकताएं पूरा करने को निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि उपभोक्ताओं को उपलब्ध करवाई जाने वाली प्रत्येक वस्तु अथवा खाद्यान्न की गुणवत्ता को लेकर किसी प्रकार का समझौता नहीं किया जा सकता और इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए।  


अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन