Watch Video: IPH विभाग का शर्मनाक सच, पानी की टंकी में मिला मरा हुआ सांप

You Are HereHimachal Pradesh
Wednesday, May 17, 2017-3:12 PM

नाहन (सतीश शर्मा): आईपीएच विभाग का शर्मनाक सच जो हम आपको बताने जा रहे हैं उसे जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे। स्वच्छ पेयजल मुहैया करने के दावे करने वाले आईपीएच विभाग की हकीकत क्या है इन तस्वीरों में देखिए। बताया जाता है कि पांवटा क्षेत्र की डांडा पंचायत के कुलथीना गांव में भयंकर पेयजल किल्लत चल रही है। गांव के कुछ लोग जब पानी लेने टंकी के पास पहुंचे तो वहां उनके मरे हुए सांप को देखकर होश उड़ गए। यही नहीं सांप के अलावा अन्य छोटे जीव-जंतु भी टंकी में मरे पाए गए। जिससे लोगों ने विभाग को जिम्मेवार ठहराया है। लोगों का कहना है कि विभाग की गलती के कारण उन्हें दूषित पानी पीना पड़ा। 
PunjabKesari
PunjabKesari

600 लोगों की आबादी पिछले 2 माह से पेयजल किल्लत से जूझ रही

उधर, विभाग से गुस्साए लोग डीसी से मिलने जिला मुख्यालय नाहन पहुंचे और सारी दास्तां बयान की। लोगों का कहना है कि गांव में कभी कभार ही पानी के दर्शन हो जाते हैं। बताया जाता है कि लोगों को करीब 2 किलोमीटर दूर से सर पर उठाकर पानी लाना पड़ता है। गांव की करीब 600 लोगों की आबादी पिछले 2 माह से पेयजल किल्लत से जूझ रही है। उन्होंने बताया कि जब इस बारे में विभाग के कर्मचारियों से बात की जाती है तो उनसे कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिलता है और उल्टा बदतमीजी पर उतर आते हैं। लापरवाह कर्मचारियों की डीसी से शिकायत की गई है। अब देखना होगा कि वह ऐसे कर्मचारियों पर क्या कार्रवाई करता है मगर कुलथिना गांव में विभाग की जो लापरवाही सामने आई है वह काफी हैरान और परेशान करने वाली है साथ ही उसकी कार्यप्रणाली पर एक सवालिया निशान खड़ा हो गया है।  
PunjabKesari
PunjabKesari

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!